Almora News

जय श्री जागेश्वर धाम, श्रद्धालुओं के लिए खुल गए मंदिर के कपाट, ये रहेंगे नियम


जय श्री जागेश्वर धाम, श्रद्धालुओं के लिए खुल गए मंदिर के कपाट, ये रहेंगे नियम

अल्मोड़ा: कोरोना महामारी के कारण लगे ब्रेक के बाद अब धीरे धीरे सब कुछ सुचारू रूप से खुलना शुरू हो गया है। मंदिरों के कपाट भी खुल रहे हैं। इसी क्रम में जागेश्वर धाम के कपाट भी श्रद्धालुओं के लिए खुल रहे हैं। अब सभी भक्त जन बाबा के दर्शन के लिए नियमों का पालन करते हुए यहां आ सकेंगे।

जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया द्वारा जागेश्वर मंदिर को खोलने के निर्देशों के साथ कुछ मानक भी जारी किए हैं। मंदिर समूह को केवल दर्शन हेतु सभी भक्तों के लिए निम्न शर्तों के अधीन खोलने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। मंगलवार (22 जून) के शुभ दिन से मंदिर के कपाट भक्तों के लिए खुल जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  फिर वायरल हुई पवनदीप राजन और अरुणिता की जोड़ी, नए गाने को हर घंटे मिल रहे एक लाख व्यूज

यह भी पढ़ें: धुरेना गांव से 800 किलो गाय के गोबर की हो गई चोरी,पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच

यह भी पढ़ें: बारिश ने जाम किए उत्तराखंड रोडवेज बसों के पहिए,पहाड़ जाने वालों की बढ़ी परेशानी

नियम व शर्तें

1. मंदिर दर्शन का समय सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक ही होगा

2. समय के उपरांत किसी को भी मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी

3. मंदिर प्रवेश पर पंजीकरण की व्यवस्था पूर्व की ही भांति रहेगी

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड का कोई जवाब नहीं, अब बागवानी में मिला सर्वश्रेष्ठ राज्य का अवार्ड

4. प्रवेश जूता स्टैंड की ओर से होगा

5. वर्तमान में केवल मंदिर दर्शन की अनुमति दी गई है

6. मध्य मंडल से ही सभी को दर्शन होंगे

7. सभी मंदिरों में बैरियर लगाए जाएंगे

यह भी पढ़ें: देवभूमि की मेधा अग्रवाल को बधाई दें, विश्व के नंबर वन इंस्टीट्यूट से करेंगी PHD

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: प्राइवेट स्कूलों ने फीस में मनमानी की तो यहां करें कॉल, होगी सीक्रेट शिकायत

जिलाधिकारी ने सभी से अपील भी की है कि दर्शन हेतु नियमावली का पूर्ण रूप से पालन करें। लाजमी है कि कोरोना संक्रमण के मामले बीते समय में तेज़ी से कम हुए हैं। जिसके बाद जनजीवन ने सांस लेना शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी शिखा पांडे बना रही है ऐपण वाले दीए, देशभर से मिल रहे बंपर ऑर्डर

बता दें कि कुछ ही दिन पहले नैनीताल स्थित मां नयना देवी मंदिर के कपाट भी भक्तों के लिए खोले गए थे। इधर जागेश्वर धाम में भी भक्त दूर-दराज से आते हैं। लिहाजा सरकार द्वारा जारी की गई एसओपी की पालना भी आवश्यक रहेगी।

यह भी पढ़ें: नैनीताल जिले में जारी हुए कर्फ्यू के आदेश, आमजन को मिलेंगी ये छूट

यह भी पढ़ें: नैनीताल: धीमा पड़ा कोरोना तो जिंदगी ने पकड़ी गति,एक दिन में आए केवल तीन मामले

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top