Nainital-Haldwani News

नैनीताल: धीमा पड़ा कोरोना तो जिंदगी ने पकड़ी गति,एक दिन में आए केवल तीन मामले


कोरोना मुक्त होने की राह पर उत्तराखंड,सबसे पहले टिहरी जिले ने मारी बाजी

नैनीताल: पिछले कई सालों में कोरोना संक्रमण से ज़्यादा कहर शायद ही किसी अन्य बीमारी या आपदा ने बरपाया हो। पहली लहर को छोड़ भी दें तो दूसरी लहर बेहद ही खतरनाक तरह से आई। नैनीताल जिले में जहां व्यापारिक गतिविधियां रुक गईं तो वहीं पर्यटन कारोबार को भी खासा नुकसान हुआ। हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी अस्पताल में एक वक्त बेड की ऐसी किल्लत हो गई थी कि पानी सिर से ऊपर जाने लगा था। बहरहाल अब सब कुछ शांत सा प्रतीत होने लगा है।

शांति प्रतीत होने के पीछे का कारण भी कोरोना संक्रमण ही है। हालांकि कोरोना अभी पूरी तरह से नहीं गया लेकिन रविवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे में जिले में केवल 3 नए मामले दर्ज किए गए हैं। मरीजों की यह संख्या अबतक की सबसे कम मानी जा रही है। पूरे कुमाऊं की बात करें तो केवल 23 मामले रिपोर्ट किए गए हैं। इधर सुशीला तिवारी अस्पताल और जनरल बीसी जोशी कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या 24 रह गई है।

यह भी पढ़ें 👉  सफाई कर्मचारियों के समर्थन में उतरे सुमित हृदयेश, हल खोजे नगर निगम नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में नई SOP जारी, gym बंद रहेंगे, बाजार 9 घंटे खुलेगा

यह भी पढ़ें: नैनीताल: लंबे समय से एक जगह पर टिके पुलिसकर्मियों की बनाई जाएगी लिस्ट,फिर होगा ट्रांसफर

अप्रैल से शुरू हुई कोरोनी की दूसरी लहर के बाद से ऐसे भी दिन बीते जब 24 घंटों में हज़ार मरीज मिले। लेकिन लोगों के अनुशासन, कर्फ्यू के पालन और स्वास्थ्य कर्मियों की मदद से जून आने तक संक्रमण की गति धीमी पड़ गई। कोरोना की गति धीमी हुई तो नियमों में कुछ रियायतें सरकार द्वारी दी गईं। जिस कारण लोगों का जनजीवन अब गति पकड़ रहा है। पांच दिन दुकानें खुलने के फैसले से हर कोई खुश नज़र आ रहा है। ऐसे में उम्मीद यही है कि कोरोना जल्द ही जड़ से खत्म हो सकेगा।

यह भी पढ़ें 👉  उपचुनाव से पहले सियासी हवा हुई तेज उदयलाल डांगी और दीपेंद्र कुंवर बीजेपी से किए गए निष्कासित

कुमाऊं में संक्रमण का हाल (रविवार बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे)

नैनीताल – 3

अल्मोड़ा – 0

बागेश्वर – 0

पिथौरागढ़ – 4

चंपावत – 5

ऊधम सिंह नगर – 11

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड क्रिकेट टीम के दो गेंदबाजों का भारतीय चैलेंजर ट्रॉफी में चयन

ब्लैक फंगस – ब्लैक फंगस के नौ रोगी भर्ती हैं। किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें: इंग्लैंड काउंटी में छाप छोड़ रहे हल्द्वानी के मयंक मिश्रा, चटका चुके हैं 22 विकेट

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में इन जगहों पर बिछाई जाएगी सीवरेज लाइन, करीब 14 करोड़ रुपए से होंगे ये काम

यह भी पढ़ें: देहरादून की स्नेह राणा ने तोड़ा इंग्लैंड का सपना,सहवाग बोले तुमने महान पारी खेली है

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में आफत की बारिश के कारण टूटा 800 गांवों से संपर्क,22 जून तक अलर्ट जारी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top