Almora News

उत्तराखंड: आम आदमी को लूटने चले थे दो इंजीनियर,एक लाख रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़े गए

Uttarakhand: Two engineers arrested taking bribe of one lakh rupees

अल्मोड़ा: विजिलेंस टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। रिश्वतखोरों की शिकायत पर प्रारंभिक जांच सही पाए जाने के बाद नेशनल हाइवे रानीखेत डिवीजन के ईई व एई को गिरफ्तार किया है। विजिलेंस टीम ने दोनों को एक लाख रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोचा है।

दरअसल छह जुलाई को अल्मोड़ा के लक्ष्मेश्वर वार्ड निवासी विक्रम साह ने हल्द्वानी के अदीक्षक विजिलेंस राजेश कुमार भट्ट से शिकायत की थी। जिसके अनुसार उसने रेस्टोरेंट के बार लाइसेंस के लिए 2019 में डीएम व जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय में आवेदन किया था।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी व पहाड़ों को मिल रही घटिया चीनी, विभाग ने अब तक 86 कुंतल काली चीनी पकड़ी

यह भी पढ़ें: CBSE ने जारी किए निर्देश, स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण करें अधिकारी, जानें क्यों…

यह भी पढ़ें 👉  राहुल द्रविड़ ने बढ़ाया अंडर-19 टीम का उत्साह, मार्च में करेंगे उत्तराखंड का दौरा

जिसके संबंध में डीएम के आदेशानुसार लोनिवि समेत नौ विभागों से लाइसेंस के लिए एनओसी ली जानी थी। इसी क्रम में राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) रानीखेत डिवीजन में भी आवेदन किया था। यहां अधिशासी अभियंता महिपाल सिंह कालाकोटी और सहायक अभियंता हितेश कांडपाल ने काम के लिए 3 लाख रुपये की मांग कर डाली।

शिकायतकर्ता के अनुसार अफसरों से बात करने पर उन्होंने एक लाख में बात तय हुई। इसके बाद विजिलेंस अधीक्षक के निर्देशानुसार विजिलेंस इंस्पेक्टर हेम चंद्र पांडे ने शिकायत की जांच कर आरोपों की पुष्टि की। फिर एक ट्रैप टीम गुरुवार रानीखेत लोनिवि एनएच खंड दफ्तर पहुंची।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग न्यूज: उत्तराखंड कैबिनेट बैठक खत्म, 24 प्रस्तावों पर लगी मुहर

यह भी पढ़ें: मसूरी कैंपटी फॉल: पर्यटकों, आपको घूमने की इजाज़त दी गई थी कोविड नियमों की धजिज्यां उड़ाने की नहीं

यह भी पढ़ें: बदरीनाथ और गौरीकुंड हाईवे पर बनाए गए डेंजर जोन, हर पल तैनात रहेगी एंबुलेंस

टीम के साथ एसपी विजिलेंस भी रानीखेत डिवीजन पहुंचे। यहां ईई महिपाल, एई हितेश दोनों मौजूद थे। शिकायतकर्ता ने ईई को रकम सौंप दी, जिसे ईई ने सामने बैठे एई को दे दिया। दोपहर करीब 3.30 बजे ट्रैप टीम ने दोनों अफसरों को रिश्वत की रकम के साथ रंगे हाथों दबोच लिया। दोनों को ही गिरफ्तार कर लिया गया।

घूसखोरी में गिरफ्तार लोनिवि एनएच खंड रानीखेत के अधिशासी अभियंता एमपीएस कालाकोटी ने डेढ़ साल पहले ही रानीखेत में पदभार ग्रहण किया था। बताया जा रहा है कि वह अगले साल सेवानिवृत्त होने वाले थे। सहायक अभियंता हितेश कांडपाल 2014 से रानीखेत खंड में कार्यरत हैं। ईई कालाकोटी हल्द्वानी के रहने वाले हैं, जबकि सहायक अभियंता कांडपाल नैनीताल के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में हेली सेवा का किराया 42 से 50 प्रतिशत कम हुआ

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: हरकी पैड़ी में हुक्का पी रहे युवकों की तीर्थ पुरोहितों ने कर दी पिटाई

यह भी पढ़ें: 100 दिन बाद उत्तराखंड में आई हैप्पी न्यूज, कोरोना से मौत का एक भी मामला नहीं…

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top