Uttarakhand News

आखिर कब सुधरेंगे, Duty के वक्त गायब मिले उत्तराखंड रोडवेज के पांच कंडक्टर


आखिर कब सुधरेंगे, Duty के वक्त गायब मिले उत्तराखंड रोडवेज के पांच कंडक्टर

देहरादून: रोडवेज की तरफ से आए दिन कोई ना कोई नया मामला सामने आता रहता है। पहले से घाटा है, फिर ऊपर से अधिकारियों व कर्मियों की लापरवाही। हालात वाकई अच्छे नहीं है। इसी कड़ी में अब की बार पांच परिचालकों पर जुर्माना लगाया गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि ये ड्यूटी के वक्त भी काम पर से गायब मिले।

उत्तराखंड परिवहन नगम ने रोडवेज में सब कुछ अच्छा करने का प्रण ले लिया है। तमाम पुरानी फाइलें खंगालने से लेकर लापरवाही को खत्म करने कि लिए निगम दिन रात एक कर रहा है। गौरतलब है कि उत्तराखंड रोडवेज के घाटे में होने से कर्मियों के वेतन देने तक में दिक्कतें हो रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दक्षिण अफ्रीका से उत्तराखंड के 10 यात्री आए हैं वापस

इन्हीं सब अनियमितताओं को देखते हुए एमडी परिवहन निगम डा. नीरज खैरवाल ने लापरवाही कर रहे कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में पांच ऐसे परिचालक मिले जो ड्यूटी ऑन होने के बावजूद ड्यूटी से गायब मिले। इन पांचों परिचालकों की ड्यूटी दिल्ली-देहरादून मार्ग पर थी।

बता दें कि पांचों पर कार्रवाई करते हुए रोडवेज ने इनपर फिलहाल ढाई हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। साथ ही एआरएम ने स्टेशन प्रभारी को पत्र लिखकर पांचों कर्मियों पर खास निगरानी रखने को कहा है। ताकि आगे कभी ऐसा कृत्य ना हो। भविष्य में ऐसा दोबारा होने पर इन्हें पद से हटाए जाने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  यात्रियों की संख्या बढ़ने पर हल्द्वानी डिपो से एक दिन में संचालित हुईं 55 बसें

इस मामले में बकायदा रोडवेज ने चस्पा सूची में इन परिचालकों के नाम भी सार्वजनिक किए हैं। इस कार्रवाई से अन्य कर्मचारियों में भी हड़कंप मच गया है। देखा जाए तो ये लापरवाही का कोई पहला मौका नहीं। उत्तराखंड रोडवेज के चालक-परिचालक अक्सर ऐसे मामलों में पहले भी लिप्त पाए गए हैं।

ड्यूटी के बावजूद गायब हो जाने के कारण कई बार रूट पर गाड़ी भेजना मुश्किल हो जाता है। परिवहन निगम की आय पर भी इसका खासा असर पड़ता है। साथ ही रोडवेज की छवि भी खराब होती है। गौरतलब है कि प्रबंध निदेशक का पद संभालने के बाद डा. नीरज खैरवाल ने सबसे पहले लापरवाह कर्मचारियों पर लगाम कसने के आदेश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं पिथौरागढ़ निवासी लक्ष्मण, आपकी छोटी सी मदद से बच सकता है एक जीवन

यही कारण है कि अब रोज दो टाइम ऑफिस स्टाफ और वर्कशॉप से जुड़े कर्मचारियों की उपस्थिति की रिपोर्ट वाट्सएप से मुख्यालय भेजी जाती है। इसी मामले में 22 अगस्त को विशेष श्रेणी के परिचालक अनिल कुमार देहरादून, पूरन सिंह दिल्ली, दिनेश सिंह दिल्ली और 26 अगस्त को प्रेम सिंह और दिनेश भंडारी पर ऑन ड्यूटी होने के बाद भी दिल्ली रूट पर नहीं जाने के कारण 500-500 रुपये जुर्माना लगाया गया है।

Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Ad
Ad

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top