Dehradun News

उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल पर कम नहीं होगा राज्य टैक्स

उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल पर कम नहीं होगा राज्य टैक्स

देहरादून: पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। आम आदमी की जेब पर भारी असर पड़ रहा है। इधर, उम्मीद के मुताबिक विधानसभा के मॉनसून सत्र में पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर अच्छी खबर नहीं आई है। राज्य सरकार के अनुसार पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर राज्य कर कम नहीं किया जा सकता है।

कोरोना काल ने पिछले साल और अब इस साल आर्थिक रूप से आमजनों की कमर तोड़ कर रख दी। पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार आगे ही बढ़ते चले गए। चुनावों के नजदीक आने के बाद ऐसा लग रहा था कि राज्य सरकार इनकी कीमतों को कम करने के लिए जरूर कुछ करेगी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: नैनीताल रोड स्थित शोरूम की पार्किंग में घुस गया बारहसिंघा,मची खलबली

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य का निधन, सीएम धामी ने किया ट्वीट

यह भी पढ़ें: मलवा आने से एक बार फिर बंद हुआ वीरभट्टी पुल, नैनीताल होते हुए यात्रा पूरी करनी पड़ेगी

लेकिन विधानसभा सत्र में पेट्रोल व डीजल पर राज्य की ओर से लगाए गए टैक्स को कम करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। जिसके बाद ये साफ हो गया है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर राज्य टैक्स तो कम नहीं होगा।

संसदीय कार्य मंत्री बंशीधर भगत के मुताबिक वर्तमान में पेट्रोल पर 19 रुपए प्रति लीटर (राज्य कर 25 प्रतिशत) व डीजल पर 10.41 रुपये प्रति लीटर (17.48 प्रतिशत) लिया जा रहा है। पेट्रोल व डीजल पर राज्य कर को कम करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

यह भी पढ़ें 👉  मसूरी में बिना कोरोना रिपोर्ट के पर्यटकों को नहीं मिलेगी एंट्री

यह भी पढ़ें: ट्विटर पर एक व्यक्ति ने सोनू सूद से मांगे एक करोड़ रुपए, एक्टर ने कहा बस इतने ही…

यह भी पढ़ें: रुद्रपुर पहुंचे टोक्यो के हीरो सिमरनजीत सिंह, ओलंपिक पदक जीतने के लम्हे को किया याद

सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस विधायक काजी निजामुद्दीन के बढ़ती महंगाई के प्रश्न के जवाब में मंत्री बंशीधर भगत ने सदन को अवगत कराया कि एलपीजी रसोई गैस पर टैक्स निर्धारित जीएसटी के दायरे में है। इसलिए ये जीएसटी के अधीन है कि एलपीजी पर टैक्स कम हो या ना हो।

यह भी पढ़ें 👉  अपने बर्थडे पर CM धामी ने लाखों बेरोजगार युवाओं को दिया गिफ्ट, परीक्षाओं की आवेदन फीस कर दी माफ

इसके साथ ही एलपीजी के बारे में फिलहाल तो सरकार की तरफ से केंद्र सरकार से कोई बात नहीं हुई है। जीएसटी में एलपीजी पर 9 प्रतिशत टैक्स लिया जाता है। इसपर विपक्ष ने सरकार को ये कह कर घेर लिया कि सरकार को आम आदमी की चिंता ही नहीं है।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी की छह सड़कें होंगी टनाटन,जारी हुआ आठ करोड़ रुपए का बजट

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी जेल में बंद कैदियों को मिलेंगे स्मार्ट कार्ड, हर महीने कर सकेंगे हजारों रुपए की शॉपिंग

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top