Uttarakhand News

उत्तराखंड: 18 साल से कम उम्र के युवा भी एक नवंबर से बनवा सकेंगे अपना वोटर कार्ड


टेंशन मत लीजिए, उत्तराखंड में दस्तावेजों के बिना भी बनेंगे आपके वोटर कार्ड

देहरादून: विधानसभा चुनावों की उल्टी गिनती अब शुरू हो गई है। निर्वाचन आयोग ने भी इस बाबत कमर कस ली है। प्रदेश भर में अगले महीने से एक महाअभियान शुरू किया जा रहा है। जिसमें लोगों के वोटर कार्ड बनाए जाएंगे। ध्यान देने योग्य बात ये है कि 18 साल के नहीं हुए युवा भी अपना वोट बनवा सकते हैं।

Ad

जी हां, ऐसे युवा एक जनवरी 2022 को 18 साल आयु पूरी कर रहे हैं। वह भी अपना वोट बनवा सकेंगे। गौरतलब है कि निर्वाचन विभाग का यह महाअभियान एक नवंबर से 30 नवंबर के बीच शुरू होने जा रहा है। ऐसे में विभाग चाहेगा कि एक बार में हर पात्र व्यक्ति का वोट बन जाए। चूंकि एक जनवरी को भी युवा वोटर कार्ड पात्र हो जाएंगे, इसलिए पहले ही उनका वोट बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  कौन हैं अनुकृति गोसाईं... जिन्होंने मॉडलिंग के बाद उत्तराखंड की राजनीति में रखा है कदम

उत्तराखंड के अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी मस्तूदास ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस अभियान में नए वोट भी बनाए जाएंगे और साथ ही मतदाताओं को वोटर लिस्ट में संशोधन का मौका भी दिया जाएगा। चुनावों के नजदीक आते ही मताधिकार को लेकर कई तरह के जागरुकता अभियान भी शुरू कर दिए जाते हैं। जो कि अब धीरे धीरे शुरू होने लगेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  डीडीहाट नहीं तो क्या रामनगर से ही चुनाव लड़ेंगे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत...?

आपको बता दें कि अलग-अलग कामों के लिए आपको अलग फॉर्म भरने होंगे। नया वोट बनवाने के लिए फॉर्म-6 तो वहीं वोटर लिस्ट से नाम हटवाने के लिए फॉर्म-7 भरा जाना है। इसके अलावा वोटर लिस्ट में करेक्शन के लिए फॉर्म-8 जबकि एक ही विधानसभा में पता बदलने के लिए फॉर्म-8ए भरा जाना है।

यह भी पढ़ें 👉  गर्व की बात है, देवभूमि की प्रीति धनाई ने इंजीनियरिंग कॉलेज में टॉप कर जीता गोल्ड मेडल

महत्वपूर्ण जानकारी

1. फॉर्म को जमा करने के लिए बीएलओ या एसडीएम से संपर्क करना होगा। इसके अलावा ऑनलाइन और वोटर हेल्पलाइन एप के माध्यम से भी आवेदन किया जा सकता।

2. निर्वाचन विभाग के पास 30 नवंबर तक जो भी आवेदन आएंगे, उनका निपटारा करने के बाद विभाग पांच जनवरी 2022 को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन करेगा।

3. इस सूची में इसके बाद कोई भी संशोधन संभव नहीं होगा। न ही इसके बाद विधानसभा चुनाव के लिए नया वोट बन सकेगा। 

To Top