Uttarakhand News

उत्तराखंड में नए प्रकार की Online ठगी, अश्लील बातें कर युवतियां ऐंठ रही हैं रुपए



देहरादून: सोशल मीडिया का ज़माना है, यूजर्स ज्यादा कहां सोचते हैं। किसी की भी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली, किसी से भी दोस्ती कर ली। दोस्ती छोड़िए, अब सोशल मीडिया किसी डेटिंग एप से कम नहीं रह गया। इन्हीं सोशल साइट्स की बदौलत ठगों के खजाने भर रहे हैं। भोले भाले लोग इनके चुंगल में फंसकर अपनी कमाई लुटा रहे हैं।

एसएसपी स्पेशल टास्क फोर्स अजय सिंह की मानें तो उत्तराखंड के लिहाज से मीडिया ठगों का एक बड़ा अड्डा बन गया है। पहले युवतियां फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजती हैं। फिर दोस्ती के बाद बात चैट से गुजर कर वीडियो कॉल तक आ पहुंचती है। इतने में साइबर क्रिमिनल युवतियों के सहारे अश्लील वीडियो कॉल को रिकॉर्ड कर लेते हैं। जिससे बाद में भोले भाले लोगों को ब्लैकमेल किया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  दहेज में बुलेट और कार नहीं मिली तो शादी के दूसरे ही दिन पति ने पत्नी को दिया तलाक, किच्छा का मामला

यह भी पढ़ें: कमजोर नहीं हैं हमारे संस्कार,अल्मोड़ा की रहने वाली TV एक्ट्रेस रूप दुर्गापाल ने फटी जींस पहनकर दिया CM को जवाब

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:पुलिसकर्मियों के तबादले, एसएसपी प्रीति प्रियदर्शनी ने लगाई मोहर

यह भी पढ़ें: तीरथ सिंह रावत कैबिनेट का फैसला, राज्य में खुलेगा एक और मेडिकल कॉलेज

यह भी पढ़ें: पहाड़ की भाषा के लिए उत्तरकाशी के युवा का प्यार, गढ़वाली में छपवाया शादी का कार्ड

यह भी पढ़ें: रुड़की की पटाखा फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दो कर्मचारियों की मौत, पांच घायल

यह लोग ब्लैकमेल कर लाखों रुपये मांगते हैं। पैसे वसूलने के लिए फेसबुक फ्रेंडस को अश्लील वीडियो भेजने या यू ट्यूब पर डालने तक की धमकी दी जाती है। इतना ही नहीं आपको फोन पर क्राइम ब्रांच या फिर यू ट्यूब क्राइम के नाम से फोन भी करते हैं। ऑनलाइन दुष्कर्म का मामला बताकर पैसे मांगते हैं या फिर कहते हैं की आपकी अश्लील वीडियो यूट्यूब पर वायरल हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी खबर है...दिल्ली से उत्तराखंड के तीन शहरों के लिए चलेंगी AC बसें

सिर्फ फेसबुक ही नहीं, लोगों का सबसे चहेता व्हाट्सएप भी गलत इस्तेमाल में लाया जा रहा है। लड़की की फोटो को कॉपी कर एडिट करने के बाद उसे अश्लील बनाकर ब्लैकमेल करते हैं और पैसे ऐंठते हैं। एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि यह गुट बाहरी राज्यों के सिम कार्ड इस्तेमाल करते हैं।

सभी अपराधी असम, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, झारखंड, तमिलनाडु या दूसरे राज्यों के फर्जी सिमकार्ड ले आते हैं और इस्तेमाल करते हैं। ताकि वे पुलिस की पकड़ में ना आ सकें। इसी तरह उत्तर प्रदेश, बिहार और दूसरे राज्यों के बैंक खाते भी किराए पर ले लेते हैं। साथ ही उनमें आए पैसों को कमीशन के तौर पर देते हैं। कुल मिलाकर इस आधुनिक दौर में सोशल मीडिया पर भी हर कदम फूंक फूंक कर रखने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के अगले साल के कैलेंडर में शामिल नहीं की गई इगास पर्व की छुट्टी

यह भी पढ़ें: सल्ट विधानसभा सीट से बड़ा अपडेट, तो तीरथ सिंह रावत यहां से नहीं लड़ेंगे चुनाव!

यह भी पढ़ें: पहाड़ से शहर गया युवक यूपी में बना साइबर ठग,गाजियाबाद से पकड़कर लाई नैनीताल पुलिस

यह भी पढ़ें: करोड़ों के मामले में वांटेड चल रही युवती से इश्क फरमाते पकड़े गए उत्तराखंड पुलिस के दरोगा साहब

यह भी पढ़ें: लोकसभा में बड़ा ऐलान,एक साल के अंदर खत्म हो जाएंगे देश के सभी टोल प्लाज़ा,ऐसे देना होगा चार्ज

यह भी पढ़ें: अमिताभ बच्चन की नातिन ने दिया उत्तराखंड CM को जवाब,कहा हमारे कपड़े नहीं अपनी सोच बदलें

Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Ad
Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top