Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी: क्वालिटी एजुकेशन की जिम्मेदारी बखूबी निभा रहा है वैण्डी स्कूल


Haldwani Live News

हल्द्वानी: कोरोना काल के बाद स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के भविष्य पर काले बादल मंडरा रहे थे। चूंकि ऐसी महामारी पिछले कुछ सालों में नहीं देखी गई। इसलिए किस तरह स्कूलों के लिहाज से इससे निपटा जाएगा, इसका अंदाजा किसी को नहीं था। शायद कई स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई पर असर पड़ा भी हो मगर हल्द्वानी के वैण्डी स्कूल के बच्चों पर तो कोई असर नहीं पड़ा होगा। क्योंकि यहां के शिक्षकों ने अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी निभाया है।

Ad

दरअसल वैण्डी सीनियर सेकेंडरी स्कूल पढ़ाई के क्षेत्र में हमेशा से ही बेहतर रहा है। बीते साल कोरोना काल के दौरान भले ही विद्यार्थी पूरे साल स्कूल नहीं जा सके। मगर वैण्डी स्कूल ने यह सुनिश्चित किया कि किसी भी कार्यक्रम से बच्चे वंचित ना रहें। जिसके लिए विद्यार्थियों एवं गुरूजनों के पारस्परिक सहयोग एवं प्रयासों से कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर, नैनीताल समेत 15 गेस्ट हाउस की बुकिंग में मिलेगी 75 फीसदी छूट, शर्तें लागू

यह भी पढ़ें: टैक्सी चालक जोगा सिंह के बेटे का ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम में चयन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 18 से 25 मई तक जारी रहेगा Curfew,पहले के कुछ नियमों में हुआ है बदलाव

आयोजन भी हुए मगर नियमों का पालन करते हुए। जी हां, गूगल मीट के जरिए ही गणतंत्र दिवस एवं स्वतंत्र दिवस जैसे कार्यक्रमों को संपन्न किया गया। हालांकि इन मौकों पर ध्वजारोहण तो विद्यालय में किया गया लेकिन विद्यार्थियों ने अपनी उपस्थिति ऑनलाइन दर्ज कराई। इससे हुआ कि अब ये समय बच्चे कबी नहीं भूल सकेंगे। यह विचित्र अनुभव विद्यार्थियों की यादों में हमेशा के लिए कैद हो गए।

यह भी पढ़ें 👉  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर, नैनीताल समेत 15 गेस्ट हाउस की बुकिंग में मिलेगी 75 फीसदी छूट, शर्तें लागू

बता दें कि विभिन्न प्रकार की सह शैक्षणिक क्रियाओं जैसे, लोक नृत्य, क्राफ्ट संबंधी प्रशिक्षण, वीडियो बनाना, प्रात: कालीन शारीरिक व्यायाम, योगाभ्यास आदि भी स्कूल प्रबंधन की ओर से नियमित रूप से कराए गए। लाजमी है कि इन्हें ऑनलाइन ही करवाया जा रहा है। विद्यालय प्रबंधक विकल बवाड़ी ने बताया कि चुनौतियां हैं मगर विद्यालय प्रबंधन और शिक्षकगण तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास विद्यार्थियों का संपूर्ण विकास करना है। जो कि किसी भी दशा में रुकेगा नहीं।

यह भी पढ़ें 👉  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर, नैनीताल समेत 15 गेस्ट हाउस की बुकिंग में मिलेगी 75 फीसदी छूट, शर्तें लागू

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 105 साल की आमा ने कोरोना को हराया,हिम्मत को करें सलाम

यह भी पढ़ें: केदारनाथ धाम के खुले कपाट,सतपाल महाराज ने राज्य के लिए बाबा से मांगा आशीर्वाद

यह भी पढ़ें: कई जिलों में मौसम विभाग का अलर्ट, लिस्ट में नैनीताल जिले का नाम भी शामिल

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी निवासी वरिष्ठ पत्रकार दिनेश मानसेरा बने सीएम के मीडिया सलाहकार

To Top