Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी:नाबालिग बेटी की शादी करा रहे थे परिजन,मौके पर पहुंची टीम ने पढ़ाया नियमों का पाठ

हल्द्वानी:नाबालिग बेटी की शादी करा रहे थे परिजन,मौके पर पहुंची टीम ने पढ़ाया नियमों का पाठ

हल्द्वानी: बाल विवाह अपराध है, ये बात सब जानते हैं। लेकिन फिर भी इस तरह के अपराध रुकने का नाम ही नहीं लेते। अजीब तो ये है कि लोग आवाज़ तक नहीं उठाना चाहते। शादी कर रहे परिवार को रोकने जाओ तो तरह तरह के बहाने या बहस झेलनी पड़ती है। हल्द्वानी में इस तरह के मामले लगातार सामने आ रहे हैं।

हल्द्वानी कोतवाली क्षेत्र से एक और मामला सामने आया है। सोमवार को रामपुर से बरात आने वाली थी। जानकारी के अनुसार महज़ 15 साल की बेटी की शादी की जा रही थी। लड़का भी नाबालिग बताया गया है। अब पूरे इंतजाम हो रखे थे केवल बरात के आने का इंतज़ार था। इतने में बाल कल्याण समिति सदस्य शेखर संगीता राव व बाल आश्रय गृह के समन्वयक रविंद्र रौतेला मौके पर धमक पड़े।

यह भी पढ़ें: बद्रीनाथ धाम के खुले कपाट,स्थिति सामान्य होने के बाद शुरू हो सकती है यात्रा

यह भी पढ़ें: CM साहब मेरी गर्लफ्रैंड की शादी रुकवाओं,नहीं तो आपकों मेरी हाय लगेगी

ये देखकर पहले तो परिवारजन परेशान हो गए। मगर बाद में बाल विवाह को रुकवाने की बात पर सभी बिगड़ गए। घर के सदस्य तो उलझे ही, पड़ोसी भी उनके साथ हो लिए। स्वजन बोले बड़ी मुश्किल से अच्छा रिश्ता मिला है। इसलिए किसी भी तरह की दखलअंदाजी ना की जाए। हम गरीब परिवार वालें हैं, शादी को हो जाने दीजिए। लेकिन कल्याण समिति सदस्य शेखर संगीता राव ने उनकी एक ना सुनी और पुलिस का डर दिखाकर स्वजनों को मना ही लिया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: भाजपा नेता के बाद कांग्रेस नेता के घर में धमाका

दरअसल दोनों सामाजिक कार्यकर्ताओं ने लड़की के स्वजनों को कानून का पाठ भी पढ़ाया। उन्हें बताया कि बेटी की शादी 18 वर्ष से पहले करना गैरकानूनी है। इन नियमों का उल्लंघन करना जेल भी भेज सकता है। शादी 18 साल तक नहीं करने की लिखित सहमत लेने के बाद ही वह वापस लौटे। बाल विवाह का यह मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: भाजपा नेता के बाद कांग्रेस नेता के घर में धमाका

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 2 लाख पार हुआ कोरोना वायरस को मात देने वालों का आंकड़ा

यह भी पढ़ें: लालकुआं,कालाढूंगी,रामनगर के लिए डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने दिया महत्वपूर्ण अपडेट

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में अब बड़े स्केल पर होगी कोरोना टेस्टिंग

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: घर बैठे बनेगा लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस, ऑनलाइन हो जाएंगी ये सुविधाएं

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top