Advertisement
Advertisement
HomeNational NewsCBSE 12वीं बोर्ड की वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितंबर के...

CBSE 12वीं बोर्ड की वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितंबर के बीच होगी!

Advertisement

नई दिल्ली: सीबीएसई द्वारा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला हाल ही में कोरोना महामारी को देखते हुए लिया गया था। परिणाम किस आधार पर घोषित किए जाएंगे, इसको लेकर भी बोर्ड द्वारा ऐलान कर दिया गया था। बहरहाल जो छात्र परिणामों से संतुष्ट नहीं होंगे, उनको परीक्षा का मौका देने के लिए भी प्लान बन गया है। सब कुछ सही रहा तो वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितबंर के बीच आयोजित होगी।

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सीबीएसई ने ये बात सामने रखी। बोर्ड की तरफ से कहा गया कि कोर्ट के सुझाव के आधार पर परिणामों के नीति में ये संशोधन किए गए हैं। इसके अलावा ये बात भी कही गई कि 12वीं के परिणाम 31 जुलाई तक घोषित कर दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: धुरेना गांव से 800 किलो गाय के गोबर की हो गई चोरी,पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच

यह भी पढ़ें: बारिश ने जाम किए उत्तराखंड रोडवेज बसों के पहिए,पहाड़ जाने वालों की बढ़ी परेशानी

सीबीएसई द्वारा हाल ही में जारी किया गया था मूल्यांकन का फॉर्मूला, जो कि निम्नलिखित है:-

कक्षा 10 – प्रमुख 5 विषयों में से तीन विषयों के थ्योरी पेपर के परफॉर्मेंस के आधार पर अंक मिलेंगे। ये तीन विषय वे होंगे जिनमें परीक्षार्थी की परफॉर्मेंस सबसे अच्छी रही होगी। इसका वेटेज भी 30% होगा।

कक्षा 11 – फाइनल परीक्षा में सभी विषयों के थ्योरी पेपर की परफॉर्मेंस के आधार पर अंक मिलेंगे। इसका वेटेज 30% होगा।

कक्षा 12 – यूनिट टेस्ट, मिड टर्म और प्री-बोर्ड परीक्षा की परफॉर्मेंस के आधार पर अंक मिलेंगे। इसका वेटेज 40% होगा।

यह भी पढ़ें: देवभूमि की मेधा अग्रवाल को बधाई दें, विश्व के नंबर वन इंस्टीट्यूट से करेंगी PHD

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: प्राइवेट स्कूलों ने फीस में मनमानी की तो यहां करें कॉल, होगी सीक्रेट शिकायत

अगर कोई भी विद्यार्थी परिणामों से संतुष्ट नहीं होगा ते उसे वैकल्पिक परीक्षा देने का मौका मिलेगा। हालांकि इस परीक्षा में शामिल होने वालों के लिए परीक्षा के अंक ही अंतिम अंक माने जाएंगे। इस परीक्षा के लिए बकायदा ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा।

साथ ही बता दें कि देशभर में स्थिति ठीक होने पर केवल मेन सब्जेक्ट्स की ही परीक्षाएं आयोजित होंगी। इसके अलावा सीबीएसई ने कोर्ट को विवाद निवारण तंत्र की जानकारी दी और बताया कि एक कमिटी केवल ये देखेगी कि छात्रों की क्यी आपत्तियां हैं।

यह भी पढ़ें: नैनीताल जिले में जारी हुए कर्फ्यू के आदेश, आमजन को मिलेंगी ये छूट

यह भी पढ़ें: नैनीताल: धीमा पड़ा कोरोना तो जिंदगी ने पकड़ी गति,एक दिन में आए केवल तीन मामले

Connect With Us

Be the first one to get all the latest news updates!
👉 Join our WhatsApp Group 
👉 Join our Telegram Group 
👉 Like our Facebook page 
👉 Follow us on Instagram 
👉 Subscribe our YouTube Channel 

Advertisements

Advertisement
Ad - EduMount School

Advertisements

Ad - Sankalp Tutorials
Ad - DPMI
Ad - ABM
Ad - EduMont School
Ad - Shemford School
Ad - Extreme Force Gym
Ad - Haldwani Cricketer's Club
Ad - SRS Cricket Academy