Uttarakhand News

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में अब बड़े स्केल पर होगी कोरोना टेस्टिंग

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में अब बड़े स्केल पर होगी कोरोना टेस्टिंग

देहरादून: प्रदेश के पहाड़ी इलाकों के लिए स्वास्थ्य विभाग ने प्लान बनाया है। संक्रमण को नियंत्रण में लाने के लिए सबसे जरूरी टेस्टिंग है। इसी के मद्देनजर अब पर्वतीय जिलों में बड़े स्तर पर रैपिड एंटीजन किट से जांच की जाएंगी। सबसे पहले यह टेस्टिंग संक्रमण से प्रभावित इलाकों में होगी। दवा की किट वितरण के लिए भी तैयारी जारी है। विभाग नहीं चाहता कि गांवों में कोरोना व्यापक रूप ले ले।

दरअसल आंकड़े यही बताते हैं कि महामारी की दूसरी लहर पर्वतीय जिलों के गांवों के लिए भी खतरे की घंटी लेकर आई है। जागरूकता ना होने के कारण कहीं कहीं नियमों की पालना भी सही से नहीं हो पा रही है। एक तरफ अनेकों समारोह से खतरा बढ़ रहा है तो वहीं बाहरी राज्यों से आने की व्यवस्था व रजिस्ट्रेशन संबधी नियमों की निगरानी नहीं हो रही है।

यह भी पढ़ें: टैक्सी चालक जोगा सिंह के बेटे का ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम में चयन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 18 से 25 मई तक जारी रहेगा Curfew,पहले के कुछ नियमों में हुआ है बदलाव

पिछले साल बाहर से आने वाले सभी लोगों के लिए गांव के पंचायत घरों व प्राइमरी स्कूलों में एक हफ्ते तक क्वारेंटाईन रहने का नियम था। जबकि इस बार बाहर से आने वाले प्रवासियों को 72 घंटे पहले की नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट की अनिवार्यता से मुक्त रखा गया। अब संक्रमण के खतरे की देखते हुए कई नियम भी इधर उधर किए जा रहे हैं। साथ ही पर्वतीय जिलों में रैपिड एंटीजन टेस्टिंग का निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना Curfew 14 दिन बढ़ाया गया, बाजार रात 9 बजे बंद होगा

सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जहां कोरोना संक्रमण के केस सामने आते जाएंगे वहां संक्रमण जांचने को रैपिड टेस्टिंग कराई जाएगी। इतना ही नहीं लक्षण होने पर व्यक्तियों का आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा। टेस्टिंग के लिए यहां मोबाइल टेस्टिंग वैन भेजी जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 105 साल की आमा ने कोरोना को हराया,हिम्मत को करें सलाम

यह भी पढ़ें: केदारनाथ धाम के खुले कपाट,सतपाल महाराज ने राज्य के लिए बाबा से मांगा आशीर्वाद

यह भी पढ़ें: कई जिलों में मौसम विभाग का अलर्ट, लिस्ट में नैनीताल जिले का नाम भी शामिल

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी निवासी वरिष्ठ पत्रकार दिनेश मानसेरा बने सीएम के मीडिया सलाहकार

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top