उत्तराखंड के मेडिकल कॉलेज में हवा से बनाई जाएगी Oxygen, मरीजों के इलाज में होगी आसानी

देहरादून: इस बार कोरोना महामारी ने अपनी तीव्रता तो बढ़ाई ही है मगर ये समय पिछले साल से कई मायनों में अलग है। गौरतलब है कि पिछले साल रेमडिसिविर इंजेक्शन और खासकर ऑक्सीजन को लेकर इतनी किल्लत सामने नहीं आई थी। इसलिए किसी को इतना अंदाजा नहीं था कि इनकी इतनी ज़रूरत होती है। बहरहाल अब दिक्कतें ज़्यादा हैं। राज्य, शहर अपने-अपने तरीकों से निपट रहे हैं।

इसी कड़ी में उत्तराखंड की राजधानी में स्थित दून अस्पताल प्रबंधन ने एक अभिनव फैसला लिया है। जिसके तहत अब अस्पताल में हवा से ऑक्सीजन बनाई जाएगी। इसकि लिए एक विशेष तरह का प्लांट लगाया जाएगा। जानकारी के अनुसार तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं और करीब एक महीने के अंदर प्लांट लगाने का टारगेट रखा गया है।

दरअसल ये सभी जानते हैं कि कोरोना का सबसे बड़ा वार इंसान के फेफड़ो पर होता है। जिस कारण से कई मरीजों को सांस लेने में दिक्कत हो रही हैं। इसलिए ऑक्सीजन की खपत ज़्यादा रही है। अब दून अस्पताल ने ऑक्सीजन की बढ़ती खपत को देखते हुए प्रेशर स्विंग एब्सार्प्‍शन (पीएसए) ऑक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड पुलिस के 684 जवान कोरोना वायरस की चपेट में आए

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड कैबिनेट बैठक में लिए गए रिकॉर्ड फैसले, जुर्माने को फिर बढ़ाया गया

बता दें कि ऑक्सीजन पीएसए जेनरेटर ऑक्सीजन को वायुमंडलीय हवा से प्रेशर स्विंग के जरिये सोखकर अलग करता है। कंप्रेस्ड हवा (21% ऑक्सीजन व 78% नाइट्रोजन) को जिओलाइट आणविक छलनी से होकर गुजारा जाता है, जिससे ऑक्सीजन अलग हो जाती है। जानकारी के अनुसार अस्पताल में फिल्हाल एक लिक्विड ऑक्सीजन और एक ऑक्सीजन गैस प्लांट संचालित हो रहा है। 

प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन की खपत काफी बढ़ गई है। अब अस्पताल को इसके लिहाज से पूरी तरह आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश की जा रही है। इसलिए एक और ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। बाद में ओटी कॉम्प्लेक्स के लिए भी अलग ऑक्सीजन प्लांट बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना को हराएगा उत्तराखंड,एक बार फिर 1500 से ज्यादा लोगों ने जीती जंग

यह भी पढ़ें: US NAGAR: डीएम ने घोषित किया एक हफ्ते का Curfew,24 घंटे खुल सकती हैं ये दुकानें

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के पक्ष में कैबिनेट मंत्री, कैबिनेट बैठक पर पूरे उत्तराखंड की नजर

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड को सात नए ऑक्सीजन प्लांट की मंजूरी मिली, CM ने कहा नहीं होगी कोई कमी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *