हल्द्वानी: मासूम से किया गंदा काम, कोर्ट ने बुज़ुर्ग को सुनाई 20 साल की सजा

0
732

हल्द्वानी: भगवान के घर देर है मगर अंधेर नहीं है। करीब ढाई साल बाद छह साल की मासूम को इंसाफ मिला है। बच्ची से दुष्कर्म करने के आरोप में बुज़ुर्ग को 20 साल कैद और जुर्माने की सज़ा सुनाई गई है। साथ ही पीड़िता को निर्भया फंड से एक लाख रुपए का मुआवज़ा दिलवाने के लिए न्यायालय ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को आदेशित कर दिया है।

शासकीय अधिवक्ता नवीन जोशी से मिली जानकारी के अनुसार मुखानी थाने में उक्त मामला 30 अक्टूबर 2018 को दर्ज हुआ था। बिठोरिया नंबर एक निवासी एक व्यक्ति ने पुलिस को तहरीर सौंपी थी। जिसमें उसने पड़ोस में रहने वाले 60 वर्ष के बुज़ुर्ग पर गंभीर आरोप लगाए थे।

यह भी पढ़ें: अरुणाचल प्रदेश से बुरी खबर,ड्यूटी पर शहीद हुए बागेश्वर के मदन मोहन

यह भी पढ़ें: केदारनाथ हेलीसेवा बुकिंग एक अप्रैल से शुरू,किराए को लेकर यात्रियों के लिए खुशखबरी

शिकायती पत्र में बताया था कि पड़ोस में रहने वाला बुज़ुर्ग 29 अक्टूबर की शाम करीब आठ बजे के आसपास उनकी 6 साल की बेटी को गोदी में उठाकर छत पर चला गया। जहां उसने मासूम के साथ गलत काम किया। इस बात की जानकारी बेटी ने मां को दी। तब परिजनों ने मुखानी थाने में केस दर्ज किया।

जानकारी के अनुसार मुखानी थाना पुलिस ने इस मामले में बुजुर्ग के विरुद्ध धारा 376 व 5(ग)/6 पाक्सो अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया। इसके बाद यह केस विशेष न्यायाधीश पाक्सो अर्चना सागर की अदालत में चला। अभियोजन पक्ष ने नौ गवाह पेश किए। शासकीय अधिवक्ता ने जानकारी दी कि गुरुवार को न्यायालय ने इस मामले में बुजुर्ग को मासूम बच्ची से दुष्कर्म का दोषी ठहराया है। उसे 20 साल कैद और 10 हज़ार रुपए जुर्माने की सज़ा दी गई है।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:मास्क के बिना सरकारी हॉस्पिटल में एंट्री बंद,SDM ने कहा पर्चा भी ना बनाया जाए

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस उत्तराखंड:साल का दूसरा सबसे खराब दिन, एक मरीज की मौत ने बढ़ाई चिंता

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:पत्रकारों की होली में पहाड़ी गीतों ने बांधा समा, सैकड़ों ने वीडियो को किया पसंद

यह भी पढ़ें: नैनीताल: पांच रुपए का मामला, छात्र ने मुख्यमंत्री से की सरकारी कर्मचारी की शिकायत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here