Uttarakhand News

कांवड़िए ध्यान दें, बॉर्डर पर ही मिलेगा गंगाजल, नियम तोड़े तो मिलेगी सज़ा


कांवड़िए ध्यान दें, बॉर्डर पर ही मिलेगा गंगाजल, नियम तोड़े तो मिलेगी सज़ा

हरिद्वार: प्रदेश सरकार ने लगातार दूसरे साल कोरोना के खतरे को देखते हुए कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी है। इसी क्रम में उत्तराखंड पुलिस ने भी कांवड़ियों के लिए प्लान बनाया है। नियमों के अनुसार अगर रोक के बावजूद भी कांवड़िए हरिद्वार में प्रवेश की कोशिश करते हैं तो उन्हें क्वारंटीन किया जाएगा।

गुरुवार को डीजीपी अशोक कुमार ने सभी जिला प्रभारियों के साथ कांवड़ यात्रा पर रोक के बाद की तैयारियों पर सोच विचार किया। जिसके बाद ही क्वारंटीन करने के फैसले पर सहमति हुई। साथ ही हरिद्वार सहित आसपास के बाजारों में कांवड़ संबंधित सामान बेचने पर भी रोक लगा दी गई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में फिर खुला सरकारी नौकरी का पिटारा, डिग्री कॉलेजों में 455 पदों पर भर्ती, आवेदन करें

डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि कांवड़ियों के प्रदेश में प्रवेश करने की स्तिथि में उन्हें क्वारंटीन किया जाएगा। इसके लिए एसएसपी हरिद्वार को जिलाधिकारी हरिद्वार के सहयोग से जगह तय करने को कहा गया है। जानकारी के अनुसार हरिद्वार, देहरादून, टिहरी और पौड़ी जिले में कांवड़ इंफोर्समेंट टीम का गठन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी अच्छी खबर, जिले में कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया

यह भी पढ़ें: देहरादून: मसूरी समेत तमाम जगह आने वाले पर्यटकों के लिए नई गाइडलाइन जारी

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड क्रिकेट के आएंगे अच्छे दिन, बीसीसीआई 22 करोड़ रुपए इंफेस्ट करेगा

बता दें कि इस टीम का काम पेट्रोलिंग करते हुए तमाम कानून व्यवस्थाओं पर नजर रखना होगा। डीजीपी ने यह भी बताया कि ट्रेन से आने वाले कांवड़ियों को स्टेशन से ही वापिस भेजा जाएगा। गौरतलब है कि कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए सरकार व पुलिस प्रशासन कोई लापरवाही नहीं चाहता।

डीजीपी अशोक कुमार ने आईजी कानून व्यवस्था को निर्देशित किया कि हरिद्वार के बॉर्डर पर स्थित थानों पर व्यवस्था हेतु अन्य राज्यों के अधिकारियों के साथ बैठक की जाए। अगर दूसरे राज्यों की पुलिस टैंकर के जरिए गंगाजल ले जाने का प्रस्ताव देती है तो इस पर विचार कर लिया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  होमगार्ड्स ने सीएम धामी को स्कूल के दिनों की दिलाई याद, स्थापना दिवस पर कर डाली पुरस्कार की घोषणा

यह भी पढ़ें: कौन हैं पुरखाराम, जो साल में सोते हैं 300 दिन, सोशल मीडिया में कर रहे ट्रेंड

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: Volvo बस का एसी खराब होने पर यात्रियों ने किया हंगामा, लेकर ही माने 220 रुपए रिफंड

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की नेहा जोशी को मिली बड़ी जिम्मेदारी, बनीं भाजयुमो की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के मुखिया पुष्कर सिंह धामी ने नियुक्त किए विशेष कार्य व जनसंपर्क अधिकारी

Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Ad
Ad

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top