रामनगर निवासी सोमांश के डांस की कायल हुईं माधूरी दीक्षित,लिटिल चैंप को दिया ये अनोखा नाम

0
573

रामनगर: छह साल की उम्र में बच्चों को खेलने कूदने से फुरसत नहीं होती। लिहाजा ये उनकी उम्र में सभी का हाल होता है लेकिन कुछ पूतों के पैर पालने में दिख जाते हैं। अब रामनगर के सोमांश को ही देख लीजिए। उम्र छह साल है मगर कारनामे किसी भी बड़े युवक के बराबर। देशभर में उत्तराखंड का नाम रौशन कर रहे सोमांश ने अपनी डांस से माधुरी दीक्षित तक को अपना फैन बना रखा है।

सोमांश रामनगर शहर के नगर पालिका सभासद व पूर्व सैनिक भुवन सिंह डंगवाल व कंचन डंगवाल का पुत्र है। इस होनहार बेटे ने उत्तराखंड को एक टीवी के माध्यम से पूरे भारत में प्रसिद्ध कर दिया है। दरअसल सोमांश एक डांस रियलिटी शो डांस दीवाने का हिस्सा है। सोमांश के डांस से सब इकने प्रभावित हैं कि उसको अनेकों नाम से पुकारा जाता है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:11 से 18 मई तक लगा Curfew,केवल तीन घंटे के लिए खुलेंगी ये दुकाने

यह भी पढ़ें: नैनीताल जिले में डीएम ने बढ़ाया कोरोना Curfew, अग्रिम आदेश तक रहेगा लागू

फिल्मी जगत में दिलचस्पी हो या ना हो, माधुरी दीक्षित का नाम तो ऐसा है कि आपको मालूम ही होगा। उनके डांस का हर कोई कायल है। बहरहाल अब रामनगर के सोमांश ने माधुरी दीक्षित को ही अपने डांस सा दीवाना बना लिया है। माधुरी ने सोमांश को स्वैग ब्वॉय का नाम दे रखा है। इसके अलावा सोमांश को और भी ढेर सारे नाम मिले हैं। शो के अन्य जज उसे उत्तराखंड का शेर कहते हैं तो वहीं उसके निवासी क्षेत्र के लोग सोमांश को लिटिल चैंप कहकर पुकारते हैं।

सोमांश का डांसिंग सफर कुछ साल पुराना है। जी हां, पिर से याद दिला दें की सोमांश की उम्र महज छह साल है लेकिन उसने अपना पहला शो मात्र तीन वर्ष की उम्र में जीत लिया था। इतनी से उम्र में सोमांश ने कई शो में भाग लिया और कई शो जीते। कक्षा दो के छात्र सोमांश ने सुपर डांसर ऑफ द ईयर 2018 सीजन 8 आगरा, उत्तराखंड उत्सव 2018, कॉर्बेट नगर उत्सव रामनगर 2018, यूनिबॉक्स टैलेंट हॉट दिल्ली 2018, लायंस क्लब नैनीताल 2018,द लैंड ऑफ कॉर्पोरेट रुड़की 2019, फूड फेस्ट रामनगर 2019 जैसे कई स्टेज शो जीते हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सरकार ने 11 मई से 18 मई तक लगाया कोरोना Curfew

यह भी पढ़ें: नैनीताल:सांसद अजय भट्ट ने ऑक्सीजन सिलेंडर और ऑक्सीजन प्लांट के लिए जारी किए 1.06 करोड़ रुपए

सोमांश को सिर्फ डांस ही नहीं बल्कि स्केट्स चलाना, हार्डबोर्ड चलाना, स्विमिंग करना, साइकिलिंग करना व तरह तरह के एडवेंचर करना भी काफी पसंद है। पढ़ाई में भी सोमांश का कोई सानी नहीं। वह अपनी कक्षा में प्रथम स्थान पर रहा है। मात्र ढाई साल से डांस कर रहा सोमांश अपनी सफलता का श्रेय गुरुजन अरुण चौधरी, अवनी व अपने माता पिता को देता है।

पिता भुवन सिंह डंगवाल ने बताया कि सोमांश बचपन से ही डांस का इकना शौकीन है कि कहीं भी गाना बजा और उसके पैर थिरकना शुरू हो जाते। बता दें कि सोमांश के परिवार मे उनकी दादी कमला डंगवाल भी है, जो एक वीर नारी है। सोमांश के दादा जी स्व श्री रघुवीर सिंह डंगवाल वर्ष 1992 मे जम्मूकश्मीर के किरण सेक्टर मे आंतकवादीयों के साथ मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए थे। पूरा उत्तराखंड दुआएं कर रहा है कि शो का विजेता तो सोमांश को ही होना चाहिए।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोरोना वायरस को हराने वालों का आंकड़ा डेढ़ लाख पार, नए आंकड़े जरूर देखें

यह भी पढ़ें: प्राणायाम को रोजमरा की जिंदगी में किया जाए शामिल,कोरोना को हराएगा उत्तराखंड

Advertisement: EduMount International School

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here