Dehradun News

उत्तराखंड का नाम विश्व भर में छाया, चित्रकार राजेश चंद्र की कलाकारी UN की प्रदर्शनी में हुई शामिल

उत्तराखंड का नाम विश्व भर में छाया, चित्रकार राजेश चंद्र की कलाकारी UN की प्रदर्शनी में हुई शामिल

ऋषिकेश: देवभूमि के एक और युवा ने अपनी प्रतिभा से प्रदेश को विश्व भर में पहचान दिलाई है। तीर्थनगरी के चित्रकार राजेश चंद्र द्वारा विश्व सागर दिवस के मौके पर बनाई गई कलाकृति को संयुक्त राष्ट्र संघ की प्रदर्शनी में जगह मिली है। वसुधैव कुटुंबकम् को दर्शाती यह कलाकृति गढ़वाली परिवेश के साथ प्रकृति की बात करती दिखती है।

दरअसल संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा 8 जून को विश्व सागर दिवस घोषित किया गया। इसी मौके पर समुद्र व उसमें रहने वाले तमाम जीव जंतुओं की सुरक्षा की जागरूकता, समुद्र को प्रदूषण से बचाने के लिए ऑनलाइन प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जिसमें विश्व भर के कलाकारों द्वारा अपनी कृतियों (कला, फोटोग्राफी आदि) के माध्यम से सागर बचाओ का संदेश दिया। यह प्रदर्शनी ओसनिक ग्लोबल के तत्वावधान में आयोजित की गई।

यह भी पढ़ें: मसूरी में टनल से होकर गुजरेगी पर्यटकों की गाड़ी, केंद्र से मिली हरी झंडी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड परिवहन विभाग करेगा SOP में बदलाव,100 प्रतिशत सवारी के साथ चलेगी बसें

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून में चलेगी मेट्रो नियो...दो रूटो के लिए प्लान बनकर हो गया है तैयार

ऑनलाइन तौर पर न्यूयार्क से संचालित हुई इस इस प्रदर्शनी में उत्तराखंड का नाम भी अंकित हो गया। इसके पीछे ऋषिकेश निवासी राजेश चंद्र की मेहनत व प्रतिभा रही। उनकी कलाकारी को संयुक्त राष्ट की प्रदर्शनी में जगह मिल गई। चित्रकार राजेश चंद्र ने अपनी कृति में वसुधैव कुटुम्बकम् का संदेश दिया था। कलाकृति में छिपा मैसेज था कि संपूर्ण विश्व यानी जानवर मानव जाति, जलीय जीव पेड़-पौधे आदि एक सम्पूर्ण परिवार है। इसलिए हम सभी को प्रकृति संतुलन बनाना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  फिल्म शूटिंग का गढ़ बना उत्तराखंड, अगली फिल्म के लिए पहाड़ आएंगी श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर

राजेश की कलाकृति की बात करें तो इसमें एक व्यक्ति, जिसने गढ़वाली परिधान पहना है, नदी के पास जानवरों के साथ मिलकर नदी में मछलियों को छोड़ रहा है। इस कृति में ये सभी हमें अमृत समान जल देने के लिए प्रकृति का आभार और हमारे द्वारा जल दूषित करने के लिए दुख प्रकट कर रहे हैं। राजेश ने पिछले साल भी इस प्रदर्शनी में भारत की ओर से प्रतिभाग किया था। इस वर्ष भी भारत से सिर्फ चित्रकार राजेश की कृति को इस प्रदर्शनी में जगह मिली है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में बाजार खुल गया है लेकिन बंद रहेंगी ये सेवाएं, पूरे हफ्ते के प्लान पर डाले नजर

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 8 IAS अधिकारियों के तबादले, सविन बंसल को मिली नई जिम्मेदारी

यह भी पढ़ें: हफ्ते में तीन दिन 9 घंटे के लिए खुलेगा बाजार, उत्तराखंड सरकार का आदेश जारी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में राहत बरकरार, 24 हजार से ज्यादा कोरोना सैंपल आए नेगेटिव

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top