नैनीताल में 26 दिसंबर से शुरू होगा विंटर कार्निवाल, देखने को मिलेगा साहसिक खेलों का रोमांच

विंटर कार्निवाल नैनीताल, भीमताल, कोटाबाग, सातताल और पंगोट समेत कई स्थानों पर आयोजित किया जाएगा।

0
268

हल्द्वानी: सरोवर नगरी में सर्दियां अपना जलवा एक बार फिर बिखेरती दिख रही हैं। हालांकि पिछले महीने के मुकाबले कुछ दिनों से पर्यटकों की संख्या और साथ ही पर्यटन व्यापारियों की आमद पर असर पड़ा है मगर पूरा शहर साल के अंत में आयोजित होने वाले प्रोग्रामों को ले कर खासा उत्साहित है। इधर उत्तराखंड सरकार भी हर क्षेत्र में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने का प्रयास कर रही है।

सैलानियों की आवाजाही और साहसिक खेलों के प्रचार प्रसार हेतु उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद और नैनीताल जिला प्रशासन ने विंटर कार्निवाल की तैयारियां शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार यह भव्य आयोजन 26 दिसंबर से शुरू हो कर 30 दिसंबर तक चलेगा। मुख्य तौर पर उत्तराखंड में शीतकालीन पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विंटर कार्निवाल आयोजन नैनीताल, भीमताल, कोटाबाग, सातताल और पंगोट समेत कई स्थानों पर आयोजित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी देवलचौड़:पिकअप ने बारातियों को रौंदा,एक डॉक्टर की मौत, 9 घायल

यह भी पढ़ें: अब नहीं होगी मरीजों को परेशानी, हल्द्वानी में 30 करोड़ की लागत से बनेगा 200 बेड का हॉस्पिटल

जानकारी के अनुसार यह कार्यक्रम पांच दिन तक चलेगा। जिसमें कई तरह की खेल से जुड़ी प्रतिस्पर्धाएं शामिल रहेंगी। मुख्य प्रतियोगिताएं जैसे क्रॉस कंट्री व पैराग्लाइडिंग कोटाबाग क्षेत्र में कराई जाएंगी, जो कि आयोजन में मुख्य आकर्षण का केंद्र रहेंगी। इसके अलावा विंटर कार्निवल में हॉट एयर बैलून की सवारी, पैरा मॉटेरिंग, एमटीबी रैली, एटीवी रैली, हेरिटेज वॉक एंड विलेज टूर, ट्रेलरनिंग, ट्रेकिंग, जिप लाइन, रॉक क्लिंबिंग, रैपलिंग, जोरमिंग, फ्लावर शो का आयोजन भी शामिल रहेगा।

साथ ही साथ इस विंटर फेस्टिवल में बर्ड वॉचिंग को भी खासा तरजीह दी जाएगी। इस साल पंगोट और सात ताल में बर्ड वॉचिंग कार्यशाला आयोजित की जाएगी। इसके अलावा भीमताल में क्याकिंग, वॉल पेंटिंग और बोट रेस, नैनीताल में एस्ट्रो फोटोग्राफी, नाव की सजावट और हॉफ मैराथन का आयोजन होगा। 

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी के पेट्रोल पंप कर रहे हैं कोरोना से मुकाबला, अब मास्क के बिना आपको नहीं मिलेगा पेट्रोल

यह भी पढ़ें: शादी के लिए देवीधुरा से हल्द्वानी पहुंची किशोरी प्रेमी के साथ फरार हुई,सीसीटीवी से खुला राज !

उत्तराखंड सरकार की कैबिनेट में पर्यटन मंत्रालय संभाल रहे सतपाल महाराज का भी सारा ध्यान साहसिक खेलों को बढ़ावा देने और राज्य में पर्यटन को बढ़ाने के उपर है। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि कोरोना के कारण पर्यटन पर भी खासा असर पड़ा है। ऐसे में साहसिक खेलों के आयोजन से प्रदेश में पर्यटन के पुनर्स्थापन को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि साहसिक खेलों के आयोजनों से राज्य को एक नई पहचान मिलेगी।

पर्यटन मंत्रालय में सचिव पद की ज़िम्मेदारी निभा रहे दिलीप जावलकर द्वारा भी साहसिक खेलों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने की कोशिशें की जा रही हैं। बता दें कि हाल ही में पौड़ी में एडवेंचर स्पोर्ट्स फेस्टिवल आयोजित किया गया था। और अब अगले महीने नैनीताल में जिला प्रशासन के सहयोग से विंटर कार्निवाल किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: नैनीताल की रुचिका ने केबीसी में जीते 12.50 लाख, अब करेंगी गरीब बच्चों के सपने साकार


यह भी पढ़ें: दिल्ली के लिए सीएनजी बसें चलाएगा उत्तराखंड परिवहन निगम, इसी हफ्ते शुरू होगा संचालन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here