बॉलीवुड पहुंचकर भी उत्तराखंड को नहीं भूले जुबिन नौटियाल, चमोली आपदा के लिए बढ़ाया मदद का हाथ

0
425

हल्द्वानी: प्रदेश में जन्मे युवा बाहर जाकर, नाम कमा कर जब प्रदेश के लिए कुछ अच्छा करते हैं तो वाकई एक सुखद अनुभूति होती है। पहले हरिद्वार के ऋषभ पंत और अब देहरादून के जुबिन नौटियाल ने यह दर्शा दिया कि उत्तराखंड उनके दिल के कितना करीब है।

चमोली आपदा के पीड़ित परिवारों की सहायता के लिए जुबिन नौटियाल आगे आए हैं। उन्होंने वैलेंटाइन डे पर मसूरी मॉल रोड पर लाइव कंसर्ट किया। जिसकी सारी राशि चमोली आपदा के पीड़ित परिवारों को दी जाएगी। श्रोताओं ने भी इस कंसर्ट का जमकर लुत्फ उठाया।

यह भी पढें: चमोली आपदा में लापता हुए हरपाल का मिला शव,गर्भवती पत्नी के लिए लेने वाले थे छुट्टी

यह भी पढें: हल्द्वानी गौलापार पहुंची भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत की मां,पिछौड़ा पहने वीडियो वायरल

दरअसल बॉलीवुड में धीरे धीरे अच्छी पकड़ बना रहे जुबिन नौटियाल उत्तराखंड के देहरादून की पैदाइश हैं। बजरंगी भाईजान जैसी बड़ी फिल्मों में अपनी आवाज दे चुके जुबिन नौटियाल ने चमोली आपदा पीड़ितों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है। गढ़वाल टैरेस के सामने होटल थ्री ऑक्स की छत पर एक लाइव कंसर्ट का आयोजन किया गया। जहां पर जुबिन नौटियाल के बैंड ने गीतों की शुरुआत की।

इसे देखने के लिए मॉल रोड पर बड़ी स्क्रीन लगाई गई थी। देखते ही देखते जुबिन का गाना सुनने वाले लोगों की भीड़ इकट्ठा होने शुरू हो गई। लोगों ने जुबिन नौटियाल के गानों और उनकी बेहतरीन आवाज़ पर जमकर मजे किए। कंसर्ट खत्म होने के बाद जुबिन नौटियील ने प्रेस से बात की।

यह भी पढें: NTPC का बड़ा ऐलान,अपने कर्मचारियों व श्रमिकों के परिजनों को देगी 20 लाख का मुआवजा

यह भी पढें: पुलवामा आतंकी हमले की दूसरी बरसी आज,हल्द्वानी में युवाओं ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

जुबिन ने बताया कि यह मेरी छोटी सी कोशिश थी जो पूरी तरह से सफल रही। इस लाइव कंसर्ट को पूरे देश में लगभग ढाई लाख लोगों ने देखा। 1 घंटे के इस कार्यक्रम में हमने पूरा मनोरंजन करने का प्रयास किया।

इसके बाद जुबिन नौटियाल ने कोरोना से मिली सीख को भी साझा किया। कहा कि कोरोना ने हमें बहुत कुछ सिखाया है और इसे हमें भूलना नहीं चाहिए। जुबिन नौटियाल ने कहा कि इंसानियत सबसे बड़ी चीज है। साथ ही बताया कि धीरे धीरे काफी अच्छी राशि आ रही है, जो कि बहुत अच्छी बात है।

यह भी पढें: चमोली आपदा: रेस्क्यू टीम को मिले 12 शव,रुद्रप्रयाग में मिला मानव अंग

यह भी पढें: पंतनगर से देहरादून और दिल्ली के लिए विमान भरेंगे उड़ान, 16 फरवरी से सेवा शुरू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here