Uttarakhand News

उत्तराखंड: स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया पर्चा,इन दवाइयों और सलाहों से सही करें कोरोना के लक्षण


देहरादून: कोरोना के बारे में कई स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा बहुत सी बातें कही जा रही हैं। अलग-अलग सलाहों से जन-जन को जागरुक किया जा रहा है। मगर जागरुकता ना होने के कारण कई लोग गलत दवाइयां भी ले रहे हैं। जिसकी वजह से उनकी तबीयत बिगड़ रही है। इसलिए लगातार शासन-प्रशासन द्वारा लोगों से अपील की जा रही है कि संक्रमण के लक्षण होने के बाद चिकित्सकों से संपर्क कर विधिवत उपचार लें।

इसी कड़ी में हाल ही में प्रशासन द्वारा केमिस्ट की दुकानों पर बिना चिकित्सक के पर्चे के खांसी, जुखाम, बुखार आदि की दवाएं बेचने पर पाबंदी लगा दी गई। लेकिन गांवों में इस पर प्रतिबंध नहीं लग पा रहा है। जिससे लगातार खतरा बढ़ा हुआ है। ऐसे में अब स्वास्थ्य विभाग ने ई-संजीवनी के माध्यम से कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए दवाओं का पर्चा जारी किया है।

सीएमओ डॉ. डीपी जोशी ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ई-संजीवनी के हवाले से बताया कि कोरोना पॉजिटिव मरीज इन दवाओं का सेवन करेंगे तो उन्हें आवश्यक तौर पर फायदा होगा। साथ ही जारी की गई सलाहों का अनुपालन करेंगे तो वह शीघ्र ही स्वस्थ हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:11 से 18 मई तक लगा Curfew,केवल तीन घंटे के लिए खुलेंगी ये दुकाने

यह भी पढ़ें: नैनीताल जिले में डीएम ने बढ़ाया कोरोना Curfew, अग्रिम आदेश तक रहेगा लागू

ये दवाई लें

1. टैब आइवरमेक्टिन 12 एमजी – एक गोली रोज सुबह शाम (खाने के बाद तीन दिन तक)

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना Curfew 14 दिन बढ़ाया गया, बाजार रात 9 बजे बंद होगा

2. टैब एजीथ्रोमाइसिन 500 एमजी – एक गोली रोज सुबह (खाने के बाद तीन दिन तक)

3. टैब डॉक्सी 100 एमजी – एक गोली रोज सुबह शाम (खाने के बाद सात दिन तक)

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

4. टैब पैरासिटामोल 650 एमजी – एक गोली जब भी बुखार आए

5. टैब लिम्सी 500 एमजी एस्कॉर्बिक एसिड – तीन बार (खाने से पहले दस दिन तक)

6. टैब जिंकोनिया ऐलिमेंट जिंक 50 एमजी – सुबह शाम (खाने से पहले दस दिन तक)

7. कैसरोल सचेत 6000 आईयू – दूध के साथ (हफ्ते में एक बार एक महीने तक)

इन बातों का रखें ध्यान

1. रोजाना 3 से 4 लीटर गुनगुना पानी पीएं

2. दिन में तीन बार भाप लें

3. आठ घंटे सोएं

4. रोजाना हल्का व्यायाम करें या टहलें

5. ऑक्सीजन लेवल पर निगरानी रखें

इसके साथ ही सीएमओ डॉ. डीपी जोशी ने कहा कि इन बातों का ध्यान रखने व इन दवाइयों का पांच दिन तक सेवन करने के बाद भी अगर बुखार बना रहता है और ऑक्सीजन लेवल 95 प्रतिशत से कम हो तथा सांस लेने में दिक्कत हो तो तुरंत अस्पताल में संपर्क करें। साथ ही इस बारे में https://www.esanjeevaniopd.in/ से अधिक जानकारी ली जा सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना Curfew 14 दिन बढ़ाया गया, बाजार रात 9 बजे बंद होगा

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सरकार ने 11 मई से 18 मई तक लगाया कोरोना Curfew

यह भी पढ़ें: नैनीताल:सांसद अजय भट्ट ने ऑक्सीजन सिलेंडर और ऑक्सीजन प्लांट के लिए जारी किए 1.06 करोड़ रुपए

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोरोना वायरस को हराने वालों का आंकड़ा डेढ़ लाख पार, नए आंकड़े जरूर देखें

यह भी पढ़ें: प्राणायाम को रोजमरा की जिंदगी में किया जाए शामिल,कोरोना को हराएगा उत्तराखंड

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top