Nainital-Haldwani News

मलवा आने से एक बार फिर बंद हुआ वीरभट्टी पुल, नैनीताल होते हुए यात्रा पूरी करनी पड़ेगी


नैनीताल: राज्य में बारिश के चलते भूस्खलन की खबरे लगातार आ रही है। उत्तराखंड के कई पर्वतीय जिलों की ओर से जाने वाले रास्ते बंद हो गए हैं। जो वीडियो हिमाचल से सामने आ रहे थे, वह अब उत्तराखंड से आ रहे हैं। पिछले 5 दिनों से बंद वीर भट्टी मार्ग मंगलवार को खोला गया लेकिन एक बार फिर उसे बंद करना पड़ा है। केवल तीन घंटे के लिए इस मार्ग पर आवागमन हो पाया। यह मार्ग हल्द्वानी से अल्मोड़ा को जोड़ने का काम करता है। भवाली हल्द्वानी हाईवे में वीर भट्टी पुल के पास फिर से मंगलवार को मलवा आ गया। ताजा अपडेट की मानें तो बुधवार को मार्ग को यातायात के लिए खोला जा सकता है।

यानी एक बार फिर यात्रियों को ज्यादा हल्द्वानी पहुंचने के लिए ज्यादा किलोमीटर तय करने होंगे। रानीबाग में स्थित पुल को भी भारी वाहनों की आवागमन के लिए बंद किया गया है। ऐसे में नैनीताल जिले और अल्मोड़ा को जोड़ने वाली सड़कों में जाम की स्थिति पैदा हो गई है। दिल्ली से नैनीताल तक जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के एक्सटेंशन में हल्द्वानी से ज्यूलिकोट, भवाली होते हुए कर्णप्रयाग तक जाने वाले इस मार्ग से कुमाऊं और गढ़वाल के पहाड़ी हिस्से के कई वाहन जाते हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी आवास विकास निवासी मीनाक्षी जोशी का हुआ भारतीय अंडर-19 चैलेंजर ट्रॉफी में चयन

इन सभी वाहनों को पिछले चार दिनों तक नैनीताल होते हुए भवाली जाने दिया जा रहा था। दूसरी तरफ चंपावत टनकपुर मार्ग में 1 दिन भूस्खलन होने के बाद से हाईवे को बंद कर दिया गया है। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके बाद दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई थी। इसके बाद यात्रियों को टनकपुर और चंपावत वापस भेजा गया। अब वाहनों को देवीधुरा मार्ग से हल्द्वानी की ओर भेजा जा रहा है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top