उत्तराखंड: निरीक्षण के लिए सरकारी अस्पताल पहुंचे DM तो मिली कमियां, लिया एक्शन

लोहाघाट: प्रदेश में सरकारी अस्पताल की पोल खुली है। अस्पताल में हाजिरी लगाने के बाद डॉक्टर ड्यूटी से गायब हो गए। इसी दौरान मौके पर डीएम निरीक्षण करने पहुंचे तो उन्होंने फटकार लगाना शुरू कर दिया। जिलाधिकारी ने तुरंत व्यवस्थाओं को सुधारने के निर्देश दिए हैं। वहीं ड्यूटी से गायब मिले डॉक्टर का सीएमओ से स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिए।

हर सिक्के के दो पहलू होते हैं। ऐसा ही एक दूसरा पहलू डॉक्टरों के बीच से भी सामने आया है। इसमें कोई संदेह नहीं कि डॉक्टर, नर्स समेत सभी कर्मचारी पूरी मेहनत से लगे हुए हैं। मगर कुछ मामले ऐसे भी सामने आते हैं जिन्हें देख कर सरकारी व्यवस्थाओं पर सवाल उठना खड़े हो जाते हैं। लोहाघाट सीएचसी में भी कुछ ऐसी ही अव्यवस्थाएं देखने को मिलीं।

यह भी पढ़ें: आरासल्पड़:किशोरी की पहचान उजागर करने वालों के खिलाफ केस दर्ज,वीडियो देखें

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: कोरोना Curfew पर नया अपडेट, 6 मई तक रहेगा लागू

सोमवार शाम को लोहाघाट सीएचसी निरीक्षण के लिए पहुंचे डीएम विनीत तोमर व एसपी लोकेश्वर सिंह ने अस्पताल पहुंचकर हैरान कर देने वाली तस्वीर देखी। अस्पताल में ज्यादातर स्टाफ गायब था। साथ ही अटेंडेंस रजिस्टर में डॉक्टर सोनाली मंडल के नाम के आगे 4 मई तक के हस्ताक्षर देखे गए। इसके अलावा अस्पताल के तीन स्वच्छक बिना अनुमति के कई दिन से काम से लापता हैं। वही कोविड के चलते सरकार के छुट्टियों में रोक लगा रखी है।

डीएम अस्पताल की व्यवस्थाओं को देख कर बिफर गए और उन्होंने सीएमएस की डांट लगा दी। साथ ही सीएमओ से तीन दिन का अल्टिमेटम देकर लापरवाह स्टाफ पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। डीएम विनीत तोमर ने बताया की सफाई व्यवस्था बिलकुल ठीक नहीं है। सीएमएस जो जरूरी निर्देश दिए गए हैं। इस दौरान सीएमओ डा. आरपी खंडूरी भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड मेडिकल बुलेटिन: दो दिन में 6279 लोगों ने कोरोना वायरस को हराया

यह भी पढ़ें: भुवन जोशी की मौत से पहले का वीडियो, ग्रामीणों के साथ बातचीत वायरल

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: नन्हे मुन्हो पर भी हो रहा है कोरोना का वार, हफ्तेभर का आंकड़ा हुआ 40 पार

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में बनकर तैयार हुआ अस्थायी शमशान घाट, व्यवस्थाओं पर डालें नज़र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *