Nainital-Haldwani News

तो ये होगा हल्द्वानी में बन रहे 500 बेड के नए अस्पताल का नाम, जनरल को होगी सच्ची श्रद्धांजलि


तो ये होगा हल्द्वानी में बन रहे 500 बेड के नए अस्पताल का नाम, जनरल को होगी सच्ची श्रद्धांजलि
Ad
Ad

हल्द्वानी: कोरोना के दौर को देखते हुए डीआरडीओ द्वारा शहर में बनाया जा रहा अस्पताल किस नाम से जाना जाएगा, ये तय हो गया है। बता दें कि 500 बेडों का यह अस्पताल जनरल बीसी जोशी कोविड चिकित्सालय के नाम से जाना जाएगा। अस्पताल मेडिकल कॉलेज परिसर में ही निर्मित हो रहा है और इसका संचालन भी मेडिकल कॉलेज ही करेगा। मंगलवार को इस फैब्रीकेटेड चिकित्सालय का शुभारम्भ करने हेतु रक्षामंत्री से अनुरोध किया गया है, इस चिकित्सालय का रक्षामंत्री राजनाथ सिंह दिल्ली से ही वर्चुअल लोकापर्ण कर सकते है।

Ad
Ad

अस्पताल के नामकरण की बात करें तो जनरल विपिन चंद्र जोशी (बीसी जोशी) पिथौरागढ़ के रहने वाले थे। वे भारतीय सेना के 17वें चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ रहे। 19 नवंबर 1994 को कार्यकाल के दौरान ही हृदय गति रुक जाने से उनका निधन हो गया था। आपको बता दें कि उनकी सेवाओं के लिए ही उन्हें परम विशिष्ट सेवा पदक, अति विशिष्ट पदक से नवाजा गया था।

बहरहाल अस्पताल में 500 बेड की व्यवस्था की गई हैं। जिसमें से 375 ऑक्सीजन बेड और 125 आईसीयू बेड होंगे। लिहाजा इस से ना सिर्फ हल्द्वानी बल्कि पूरे कुमाऊं और आसपास के क्षेत्रवासियों को राहत मिलेगी। मेडिकल कालेज प्राचार्य डॉ. सीपी भैंसोड़ा ने बताया कि अस्पताल का नाम डीआरडीओ की तरफ से रखा गया है।

यह भी पढ़ें 👉  कॉर्बेट फॉल में डूबे दूसरे छात्र का शव भी बरामद, पर्यटकों के लिए बंद की गई Entry

यह भी पढ़ें: कोरोना हुआ कम तो चारधाम को लेकर मंथन शुरू,इन जिलों के लोगों मिल सकती है अनुमति

यह भी पढ़ें: हिंदी पत्रकारिता दिवस पर हल्द्वानी के पत्रकारों ने बांटी कोरोना बचाव किट

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी से फिर शुरू हुई लोहाघाट-रीठा साहिब के लिए डायरेक्ट बस सेवा, शेड्यूल देखें

इसके अलावा उन्होंने बताया कि लगभग तीन से चार दिन में सारे काम खत्म हो जाएंगे और अस्पताल तैयार हो जाएगा। अस्पताल के संचालन को लेकर पत्र भी जारी किया है। इसमें कहा गया है कि अस्पताल के संचालन का पूर्ण दायित्व सुशीला तिवारी अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक का होगा।

यह भी पता चला कि नर्सिंग सेवाओं और हाउस कीपिंग के सुपरविजन का दायित्व एसटीएच के ही नर्सिंग अधीक्षक को सौंपा गया है। पत्र में कहा गया है कि संबंधित कर्मचारियों को अलग से भत्ता या मानदेय देय नहीं होगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू माना जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  कालाढूंगी:कॉलेज टूर में आए दो छात्र कॉर्बेट फॉल में डूबे, एक की मौत दूसरे की तलाश जारी

यह भी पढ़ें: देहरादून: प्रेमी जिम ट्रेनर के साथ मिलकर पत्नी ने पति को उतारा मौत के घाट

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 28923 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई, 90 प्रतिशत के पास पहुंचा रिकवरी दर

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:सोमवार को होगा Curfew पर फैसला,कैबिनेट मंत्री ने दिया अपडेट

यह भी पढ़ें: कमाल की गेंदबाजी,इंग्लैंड काउंटी क्रिकेट में छाया कुमाऊं का मयंक मिश्रा

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
Ad
To Top