Uttarakhand News

पहले चरण में सीमित लोगों को मिलेगी चारधाम यात्रा की अनुमति



देहरादून:कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए सरकार ने चार धाम यात्रा पर रोक लगा रखी थी। उत्तराखंड में कोरोनावायरस के मामले कम हुए तो सरकार अब धीरे-धीरे अनलॉक की तरफ बढ़ने लगी है, यातायात के साधन अब राज्य के अंदर चलने लगे हैं ।

वहीं बाजारों को भी हफ्ते में 5 दिन के लिए सीमित समय के लिए खोलने की अनुमति मिल गई है। चार धाम यात्रा को लेकर भी अहम फैसले लिए जा रहे हैं। यात्रियों की सुरक्षा को सरकार ने प्राथमिकता बनाया हुआ है और सभी बिंदुओं पर मंथन किया जा रहा है। खबर के अनुसार चार धाम यात्रा को लेकर गाइडलाइन्स टूरिज्म डिपार्टमेंट द्वारा बनाई जाएगी।

वहीं कोरोनावायरस के चलते चार धाम यात्रा सीमित श्रद्धालुओं के साथ शुरू की जाएगी। 1 जुलाई से यात्रा शुरू करने का फैसला लिया गया है। एक जुलाई से चमोली, उत्तरकाशी व रुद्रप्रयाग जिले के लोगों के लिए यात्रा शुरू की जाएगी। जबकि 11 जुलाई से प्रदेश भर के लोगों को दर्शन की अनुमति दी जाएगी।

बदरीनाथ धाम में 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री धाम में 400 लोगों को एक दिन में दर्शन करने की अनुमति मिलेगी। देवस्थानम बोर्ड  द्वारा सरकार को सीमित श्रद्धालुओं के साथ यात्रा शुरू करने हेतु प्रस्ताव भेजा गया है।

बोर्ड की माने तो अभी भी कोरोनावायरस का खतरा खत्म नहीं हुआ है। छोटी सी लापरवाही बड़ी बन सकती है, इसके लिए सभी बड़े कदम उठाए जा रहे हैं। फ़िलहाल यात्रा उत्तराखंड के लोगों के लिए खोली जा रही है,कोरोना वायरस के मामले कम होने के बाद दूसरे राज्यों के यात्रियों के लिए प्लान बनाया जाएगा।

To Top