Uttarakhand News

उत्तराखंड: रेल यात्रियों को सहूलियत, अब ट्रेन पकड़ने के लिए जरूरी नहीं जल्दी स्टेशन पहुंचना

उत्तराखंड: रेल यात्रियों को सहूलियत, अब ट्रेन पकड़ने के लिए जरूरी नहीं जल्दी स्टेशन पहुंचना

देहरादून: रेलवे के पहिए भी कोरोना के कारण पटरियों पर दौड़ नही पा रहे थे। कुछ ट्रेनें जो चल रही थी, उनमें ज्यादा सवारियां नहीं बैठ रही थीं। बहरहाल अब व्यवस्थाएं दोबारा सुचारू हो रही हैं। कई ट्रेनें दोबारा चलनी शुरू हो रही हैं। इसके साथ ही रेलवे ने एक बड़ा बदलाव किया है। अब यात्रियों को ट्रेन पकड़ने के लिए इसके समय से डेढ़ घंटा पहले से स्टेशन नहीं पहुंचना होगा। बल्कि अपनी सहूलियत के हिसाब से वे आ सकते हैं।

दरअसल कोरोना की दूसरी लहर के शुरू होने के बाद से ही कई ट्रेनों के संचालन बंद कर दिए गए थे। अब जब संक्रमण की दर में कमी आई है तो संचालन फिर से शुरू हो रहा है। इसी कड़ी में 11 जून से दून से चलने वाली ट्रेनों की संख्या में इजाफा होने जा रहा है। बता दें कि 11 जून से देहरादून काठगोदाम जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन फिर से शुरू होने जा रहा है। लिहाजा इससे यात्रियों के खासा राहत मिलेगी।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में चलेंगे सार्वाजनिक वाहन, इन 5 नियमों का पालन करना अनिवार्य, SOP जारी

यह भी पढ़ें: आरासल्पड़:भुवन जोशी मौत मामले में अपडेट,आरोपियों की जमानत अर्जी नामंजूर

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

इसके अलावा 14 जून से देहरादून से नई दिल्ली के बीच चलने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस और देहरादून से कोटा के बीच चलने वाली नंदा देवी एक्सप्रेस भी चलने लगेगी। साथ ही बड़ा बदलाव यह किया गया है कि अब स्टेशन पर ट्रेन के निकलने से 90 मिनट पहले पहुंचने की कोई बाध्यता नहीं होगी। यह भी यात्रियों के लिए ही किया गया है। बता दें कि यात्री त्वरित टिकट भी बुक कर सकेंगे और टिकट कन्फर्म होने पर ही उन्हें यात्रा करने की अनुमति मिलेगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना Curfew 14 दिन बढ़ाया गया, बाजार रात 9 बजे बंद होगा

देहरादून रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक सीताराम शंकर ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एक अंतराल के बाद ट्रेनें दोबारा चलने के लिए तैयार हैं। यात्रियों को ट्रेन में सफर के दौरान फेस मास्क का अनिवार्य रूप से इस्तेमाल करने पर उन्होंने जोर दिया। उन्होंने बताया मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होना जरूरी है। साथ ही ट्रेन में बिना मास्क के मिलना मतलब जुर्माना लगना निश्चित है। बताया कि ट्रेन के रवाना होने से 30 मिनट पहले तक त्वरित टिकट प्राप्त किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना Curfew 14 दिन बढ़ाया गया, बाजार रात 9 बजे बंद होगा

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में रिकवरी रेट 93 प्रतिशत पार,23259 कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड CM तीरथ सिंह रावत के बाद पूर्व सीएम त्रिवेंद्र दिल्ली दौरे पर,कयास लगने शुरू

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: सरयू नदी में नहाने गए पांच किशोरों के शव मिलने से सनसनी,मृतकों में दुल्हन के दो सगे भाई शामिल

यह भी पढ़ें: कैबिनेट का फैसला, पर्यटन व्यवसायियों को मिलेगी राहत, एक क्लिक में जानें पूरी खबर

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top