Nainital-Haldwani News

आज शाम तक खुल सकता है रानीबाग पुल,भारी वाहनों की रहेगी No Entry

कुमाऊंवासियों के लिए राहत, खुल गया है रानीबाग पुल

हल्द्वानी: मौसम की मार व भारी वाहनों की आवाजाही के चलते ध्वस्त हुई रानीबाग पुल की सड़क शुक्रवार शाम तक तैयार होने की उम्मीद है। चूंकि मौसम भी ठीक बना हुआ है, इसलिए लोनिवि जल्द से जल्द काम पूरा करने के मूड में है। लिहाजा बड़ी बात ये सामने आ रही है कि अब बड़े वाहनों के लिए इस रास्ते को बिल्कुल बंद कर दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार लोनिवि इस मामले में काफी सचेत है।

दरअसल सोमवार की बात है जब सुबह-सुबह अचानक रानीबाग पुल से सटी दस फीट चौड़ी सड़क नदी में समा गई। भूस्खलन ही इसके पीछे का मुख्य कारण रहा। रास्ता तभी से चैपहिया वाहनों के लिए बंद है। सभी गाड़ियों को भीमताल जाने के लिए ज्योलीकोट होकर जाना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  जन्मदिन पर उत्तराखंड सीएम ने DGP को दिए निर्देश,मेरे काफिले से जनता को नहीं होनी चाहिए परेशानी

यह भी पढ़ें: जरूरी खबर, एक सिंतबर से शुरू होंगी कुमाऊं विश्वविद्यालय की परीक्षाएं

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड मांगे भू-कानून,नहीं तो पूरे प्रदेश में होगा उग्र प्रदर्शन

गौरतलब है कि ये रास्ता अमृतपर, जमरानी व भीमतान विधानसभा के इलाकों के लोगों के लिए मुख्य रास्ता है। इसलिए स्थानीय लोगों को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जानकारी के अनुसार पिछले पांच दिन से जेई केके पाठक की निगरानी में मजदूर सड़क की मरम्मत में जुटे तो हैं लेकिन लगातार हो रही बारिश ने नाक में दम कर रखा है।

गुरुवार तक आठ मीटर सुरक्षा दीवार तैयार कर दी गई थी। विधायक राम सिंह कैड़ा भी देर रात तक यहां जुटे हुए थे। बहरहाल अब शाम तक चार मीटर काम पूरा कर ऊपर पत्थरों से भरान किया जाएगा। ताकि गैप को भरा जा सके। इसके बाद ही सड़क को खोला जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  हाई कोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगाई गई रोक हटाई, कुछ नियमों का करना होगा पालन

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में बड़ा हादसा, गौला नदी में डूबे दो भाई

यह भी पढ़ें: आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा उत्तराखंड की जनता के पास हैं केवल दो विकल्प

पीडब्लूडी का कहना है कि लाख बार बताने के बावजूद भारी वाहन यहां से चल रहे थे। ट्रकों भारी खनन लेकर रात व सुबह को यहां से धड़ल्ले से निकलते थे। जिस कारण सड़क कमजोर हो गई। इसलिए विभाग अब इस मार्ग पर पैराफिट लगा कर सड़क की चौड़ाई कम करने जा रहा है। यहां केवल इतनी जगह छोड़ी जाएगी कि टैक्सी व आसपास के इलाकों से सामान लेकर आने वाली मैक्स-पिकअप यहां से पास हो सके।

यह भी पढ़ें 👉  सुशीला तिवारी अस्पताल में तीमारदारों की हेल्प करेगी नैनीताल पुलिस

आपको बता दें कि उत्तराखंड के कई जिलों में बीते पांच दिनों से बारिश कहर बनकर बारिश रही है। हालांकि बारिश होने से मैदानी क्षेत्रों में गर्मी जरूर दूर भाग गई है। लेकिन पहाड़ी इलाकों के लिए ये समय खासा मुश्किल है। ऐसा इसलिए क्योंकि बारिश के कारण कई रास्ते बंद हैं। जिससे लोगों व पर्यटकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में हज़ारों युवाओं के साथ धोखा, सरकारी भर्ती का भर्जी विज्ञापन सोशल मीडिया पर वायरल

यह भी पढ़ें: BCCI का बड़ा अपडेट, ऋषभ पंत ने कोरोना वायरस को दी मात

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top