Dehradun News

उत्तराखंड:आवेदन किया लेकिन नहीं बन सका आपका ड्राइविंग लाइसेंस,अब RTO में शुरू हुई अगले हफ्ते की तैयारी


ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO जाकर टेस्ट नहीं देना होगा,उत्तराखंड में एक जुलाई से नया नियम

देहरादून: कोरोना के कारण जहां आवागमन बाधित हुआ है। वहीं आरटीओ के द्वारा किए जाने वाले तमाम कामों पर भी असर पड़ा है। आप अकेले नहीं है, जिसका ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य काम का आवेदन आरटीओ कार्यालय में लंबित है। आप जैसे करीब 25 हजार आवेदन और ऐसे हैं। जिसमें 10 हजार आवेदन तो अकेले ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़े ही हैं। बहरहाल अब रिपोर्ट्स के अनुसार 8 जून से लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस, फिटनेस, टैक्स व वाहन ट्रांसफर आदि के काम शुरू किए जा सकते हैं।

Ad

परिवहन विभाग ने लाइसेंस से जुड़े टेस्ट को शुरू करने की तैयारी कर दी है। बता दें कि देहरादून आरटीओ आफिस में 22 अप्रैल से लाइसेंस बनाने का काम ठप है, जबकि 27 अप्रैल से जनता के प्रवेश पर रोक लगी हुई है। अब चूंकि कोरोना संक्रमण दर में खासा गिरावट आई है, इसलिए धीरे धीरे परिवहन विभाग आरटीओ के कामकाज शुरू करने का मन बना रहा है। आरटीओ प्रशासन दिनेश चंद्र पठोई ने बताया कि पांच जून को बैठक बुलाकर कार्यों की दैनिक संख्या निर्धारित करने पर निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 31 जनवरी से खुलेंगे कक्षा 10वीं से लेकर 12वीं तक के स्कूल, आदेश जारी

यह भी पढ़ें: हरिद्वार-देहरादून में बनेगा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, दिल्ली के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोरोना Curfew की गाइडलाइन जारी, नए बदलावों पर डाले नजर

पिछले साल का लेखा जोखा भी ऐसा ही रहा था। हालांकि तब 20 जुलाई से स्थाई लाइसेंस की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। 14 अगस्त से लर्निंग लाइसेंस की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई थी। पहले आरटीओ में हर कार्य के लिए 20-20 आवेदन शुरू किए गए, जो बाद में बढ़ाकर 50 और फिर 100 कर दिए गए। बहरहाल अब 27 अप्रैल से सब कामकाज बंद हैं। हालांकि पिछले हफ्ते आरटीओ के आदेश पर नए वाहनों के पंजीकरण और अस्थायी परमिट के कार्य शुरू किए गए थे।

यह भी पढ़ें 👉  "मेरी पत्नी को ही दे देते टिकट...", टिकट कटने के बाद रो पड़े भाजपा के विधायक - VIDEO

आपको बता दें कि लाइसेंस का बैकलॉग और संक्रमण दर में आई गिरावट आरटीओ द्वारा काम दोबारा शुरू करने का कारण हो सकता हैं। अंदाजा यही है कि आठ जून से लर्निंग व परमानेंट लाइसेंस प्रक्रिया, फिटनेस, परमिट व रजिस्ट्रेशन टैक्स आदि से जुड़े कार्य सीमित संख्या में खोल दिए जाएंगे। फिटनेस, टैक्स व परमिट आदि के लिए शुरुआत में 25 से 30 कार्य रोज के तय किए जा सकते हैं। इसके अलावा परिवहन विभाग 25 से 50 स्लाट तय करना चाहता है। संक्रमण के कारण लंबित आवेदनों को देखते हुए 30 टेस्ट पुराने आवेदन के और 20 टेस्ट नए आवेदन वाले आवेदकों के लिए खोल सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  पिता हरीश रावत को 2017 चुनावों में मिली हार का बदला लेने मैदान पर उतरेंगी बेटी अनुपमा रावत

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:गरूड़ के पंकज परिहार बने भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट,अब बदलेंगे दिन

यह भी पढ़ें: भावुक पल: चंपावत में बेटा कोरोना को हराकर घर लौटा तो मां ने तिलक लगाकर किया स्वागत

यह भी पढ़ें: कर्फ्यू में दिल्ली से देवभूमि पहुंच गई युवती,पुलिस ने रोका तो कहा तप्तकुंड से अमृत लेने आई हूं,पढ़ें रोचक कहानी

यह भी पढ़ें: तो ये होगा हल्द्वानी में बन रहे 500 बेड के नए अस्पताल का नाम, जनरल को होगी सच्ची श्रद्धांजलि

To Top