उत्तराखंड: दो परिवारों ने हाथ में लिया कानून, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर रुकवाई शादी, केस दर्ज

File Photo

हरिद्वार: क्षेत्र में हो रही एक गैर कानूनी शादी को पुलिस द्वारा रुकवाया गया है। ना सिर्फ पुलिस ने शादी को रुकवाया बल्कि दूल्हा और उसके माता-पिता और किशोरी की मां के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। बता दें कि बाल विवाह की शिकायत पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

हरिद्वार कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक नंदकिशोर ग्वाड़ी ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चौकी रोडीवेल वाला के उपनिरीक्षक पवन डिमरी को विनय नाम के व्यक्ति ने फोन कर एक सूचना दी थी। जिसके मुताबिक कबाड़ी बस्ती लालजीवाला में बाल विवाह को अंजाम दिया जा रहा था।

दरअसल यहां एक 15 वर्षीय किशोरी की शादी पास में ही रहने वाले 19 वर्षीय ज्ञानचंद्र से की जा रही थी। सूचना मिलने के तुरंत बाद पवन डिमरी पूरी पुलिस टीम के साथ कबाड़ी बस्ती में जा पहुंचे। जिसके बाद थाने की बाल कल्याण अधिकारी उपनिरीक्षक लक्ष्मी मनोला को मौके पर बुलाया गया। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 28 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी दफ्तर, तीन दिन बढ़ाई गई अवधि

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोरोना वायरस के 5084 केस सामने आए, 1466 लोग रिकवर हुए

मौके पर पहुंचकर किशोरी की मां अर्चना से पूछताछ शुरू हुई तो उन्होंने अपनी बेटी की शादी पर सहमति जताई। साथ ही जब प्रमाण पत्र मांगे गए तो असलियत सामने आई। जन्मतिथि प्रमाण पत्र में लड़की 15 साल की तो लड़का 19 साल का निकला।

पुलिस ने फौरन शादी रुकवाते हुए किशोरी की मां अर्चना, दूल्हा ज्ञानचन्द्र उसकी मां पूनम व पिता शेर सिंमह के खिलाफ बाल विवाह अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने कहा कि कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: दोपहर 2 बजे बंद हो जाएगी शराब की दुकानें

यह भी पढ़ें: डरना नहीं लड़ना है, 24 घंटे में कोरोना को हरा चुके हैं दो लाख से ज़्यादा मरीज

यह भी पढ़ें: नैनीताल: दिल्ली से पहुंचे 10 संक्रमित प्रवासी हुए गायब, फोन भी कर दिया बंद

यह भी पढ़ें: कोरोना उत्तराखंड: काउंटी खेलने इंग्लैंड जा रहे मयंक मिश्रा को एयरपोर्ट से वापस लौटना पड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *