कोरोना उत्तराखंड: काउंटी खेलने इंग्लैंड जा रहे मयंक मिश्रा को एयरपोर्ट से वापस लौटना पड़ा

हल्द्वानी: कोरोना वायरस के प्रकोप ने पूरे देश में आतंक मचाया हुआ है। यह बीमारी जिंदगी के अलावा सैकड़ों लोगों से रोजगार और मौके भी छिन रही है। कोरोना वायरस के चलते सरकार को मजबूर होकर सख्ती करनी पड़ रही है। इसमें लॉकडाउन और Curfew समेत कई चीजे शामिल हैं। यह सैकड़ों लोगों को आर्थिक नुकसान पहुंचा रहा है। केवल व्यापार से जुड़े लोग ही नहीं बल्कि खेल से जुड़े लोगों को भी कोरोना वायरस नुकसान पहुंचा रहा है। कोरोना वायरस के चलते स्पोर्ट्स गतिविधियां बंद हैं। भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप इतना बढ़ गया है कि ब्रिटेन ने इसे रेड जोन में शामिल किया है। इस वजह से उत्तराखंड के क्रिकेटर मयंक मिश्रा इंग्लैंड के लिए रवाना होने से वंचित रह गए।

दरअसल मयंक मिश्रा को काउंटी खेलने के लिए इंग्लैंड से बुलावा आया है। वह फिलाडेल्फिया क्रिकेट क्लब से जुड़े। उन्हें 23 अप्रैल को रवाना होना था। इसके लिए सभी तैयारियां हो गई थी लेकिन कोरोना वायरस के सख्त नियमों के चलते उन्हें दिल्ली एयरपोर्ट से वापस रुद्रपुर लौटना पड़ा। मयंक ने बताया कि 23 अप्रैल से भारत को ब्रिटेन ने रेड जोन में शामिल किया है। इसके अलावा हवाई कंपनियों ने भी कोरोना वायरस के चलते नियमों को पहले से जटिल कर दिया है, इस वजह से उन्हें यात्रा नहीं करने दिया गया। मयंक 23 अप्रैल को दिल्ली से लंदन ( वाया फ्रैंकफर्ट-डबलिन) के लिए रवाना हो रहे थे। 10 दिन लंदन में क्वारंटाइन होने के बाद उन्हें मैनचेस्टर के लिए रवाना होकर अपनी टीम से जुड़ना था। इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट 17 अप्रैल से शुरू हो गई है। वह 7 मई को होने वाले मुकाबले में टीम का हिस्सा होते।

इस बारे में मयंक ने बताया कि वह चार महीने के लिए इंग्लैंड जा रहे थे।कोरोना वायरस के मौजूदा हालातों के चलते उन्हें एयरपोर्ट से वापस लौटना पड़ा। हालांकि वह अभी क्लब के साथ संपर्क में हैं। अगर आने वाले दिनों में हालात सामान्य हो जाते हैं तो तीन महीने के लिए टीम के साथ जुड़ेंगे। मयंक ने कहा कि यह किसी भी खिलाड़ी के लिए सुखद अनुभव नहीं लेकिन ये चीजे हमारे हाथ में नहीं है। बस उम्मीद है कि भारत रेड जोन से बाहर आए और मुझे काउंटी खेलने का मौका मिले।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: डॉक्टर नेहा शर्मा का आकस्मिक निधन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: जोशीमठ में ग्लेशियर फटने की खबर, पुलिस ने जारी किया संदेश

यह भी पढ़ें: घर बैठे बैठे Euro Kids स्कूल के नन्हे मुन्हे छात्रों ने मनाया Earth Day, दिया ज़रूरी संदेश

यह भी पढ़ें: सरकार का ऐलान, उत्तराखंड में 50 लाख युवाओं को मुफ्त में लगेगा कोरोना का टीका

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना वायरस को हराया लेकिन 49 ने तोड़ा दम

यह भी पढ़ें: रोचक: पहले वैक्सीन चुराई फिर उन्हें वापस कर गया चोर, नोट में लिखा Sorry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *