Nainital-Haldwani News

नैनीताल के शुभम की भी एवलांच में मौत, आंखों में बड़े सपने लेकर उत्तरकाशी गया था बेटा

Ad
Ad
Ad
Ad

नैनीताल: द्रौपदी का डांडा-2 पर हुए हिमस्खलन में शवों के बरामद होने का सिलसिला अभी खत्म नहीं हुआ है। रेस्क्यू टीम ने पर्वतारोहियों प्रशिक्षुओं की खोजबीन के दौरान एक और शव बरामद किया है। जिसकी पहचान नैनीताल, कृष्णापुर के शुभम सांगरी के शव के रूप में हुआ है। शव मातली (उत्तरकाशी) पहुंच चुका है।

जिला मजिस्ट्रेट धीराज सिंह गर्ब्याल ने एवलांच के कारण हुई शुभम की मृत्यु पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। डीएम गर्ब्याल ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा उनके पिता दीवान सिंह को शव सुपुर्द कर दिया गया है। शुभम के पिता दीवान सिंह टैक्सी चलाते हैं जबकि उनकी मां का दो साल पहले निधन हो गया था।

शुभम की बहन रुद्रपुर में जॉब करती है। बता दें कि शुभम 10 सितंबर को नैनीताल से उत्तरकाशी फिर 14 को नेहरू पर्वतारोहण संस्थान गया था। परिवार ने बताया उसे इसी फील्ड में जाना था। गौरतलब है कि एमबीए पास शुभम पहले भी ट्रेकिंग दलों में गया था। जानकारी के अनुसार शुक्रवार को सात प्रशिक्षु पर्वतारोहियों के शव बरामद हुए। अब तक कुल 26 शव बरामद कर लिए गए हैं, जबकि तीन की तलाश जारी है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
यह भी पढ़ें 👉  पंतनगर-पिथौरागढ़ के बीच शुरू होगी हवाई सेवा, दिसंबर में मिल सकती है खुशखबरी!
To Top