Uttarakhand News

उत्तराखंड के किसानों के आएंगे अच्छे दिन, उद्यान विभाग ने तैयार की 1200 करोड़ की परियोजना


उत्तराखंड के किसानों के आएंगे अच्छे दिन, उद्यान विभाग ने तैयार की 1200 करोड़ की परियोजना

देहरादून: किसानों के मन को तराशें तो बीता समय कुछ खास नहीं रहा। मगर उत्तराखंड में आने वाला समय किसानों के लिए राहत जरूर ला सकता है। इस ओर इशारा कर रही है उत्तराखंड सरकार की तैयारी। उद्यान विभाग मधुमक्खी पालन व बागवानी पर फोकस कर 1200 करोड़ की योजनाएं तैयार कर रहा है।

Ad

उत्तराखंड में किसानों के लिए अच्छे दिन आने की एक उम्मीद जाग गई है। हालांकि केंद्र के सहयोग की भी राज्य सरकार को खासा जरूरत रहेगी। दरअसल किच्छा में हुए कृषक संवाद कार्यक्रम में उद्यान निदेशक डा. हरमिंदर सिंह बवेजा ने किसानों को खुशखबरी सुनाई है।

यह भी पढ़ें 👉  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर, नैनीताल समेत 15 गेस्ट हाउस की बुकिंग में मिलेगी 75 फीसदी छूट, शर्तें लागू

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में PCS के 224 पदों पर निकली भर्ती, 30 अगस्त है लास्ट डेट

यह भी पढ़ें: रुद्रपुर की महिलाओं को मंडुए के बिस्कुट ने दी पहचान,PM मोदी फोन पर जानेंगे लाखों के टर्नओवर का राज

निदेशक ने किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा की जा रही तैयारियों पर प्रकाश डाला। दरअसल उद्यान विभाग ने केंद्र को 1200 करोड़ की परियोजना का प्रारूप भेज दिया है। जिससे हार्टिकल्चर बोर्ड के माध्यम से प्रोसेसिंग प्लांट तैयार विपणन की पूरी व्यवस्था की जाएगी।

लाजमी है कि इसके जरिए उत्तराखंड ताजे फलों के रस का बड़ा केंद्र बनेगा। किसानों को आय के लिए किसी का मुंह नहीं ताकना पड़ेगा। इसके साथ ही कोरोनाकाल में मधुमक्खियों के शहद से तैयार मौन विष ने कई बीमारियों को ठीक किया। इसलिए मधुमक्खी पालन पर भी खासा फोकस रहेगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी विधानसभा सीट पर बदले का रण...सुमित व जोगिंदर में किस के सिर सजेगा ताज ?

यह भी पढ़ें: वायरल हुआ “प्यारी पहाड़न रेस्त्रां”…संचालिका प्रीति को आया PMO से कॉल

यह भी पढ़ें: कमाल का ऑफर,नीरज या वंदना है आपका नाम तो फ्री में कर सकेंगे चंडी देवी मंदिर के लिए रोपवे का सफर

उद्यान विभाग इसके लिए एक प्लांट इसके ज्योलीकोट में लगाने की योजना पर काम कर रहा है। साथ ही अब बागवानी में लगे किसानों को पौधा चयन के लिए उद्यान विभाग द्वारा पौध उपलब्ध करवाने का इंतजार नहीं करना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  नामांकन का आखिरी दिन...भाजपा ने अबतक एक सीट पर घोषित नहीं किया है अपना उम्मीदवार

उद्यान निदेशक डा. हरमिंदर सिंह बवेजा के अनुसार मधुमक्खी पालन पर विश्व का सबसे बड़ा कार्यक्रम उत्तराखंड में तैयार किया जा रहा है। केंद्र के पास योजना का प्रारुप भेजा गया है। इसके अंतर्गत प्रोसेसिंग प्लाट लगाया जाएगा। बागवानों को अंतरराष्ट्रीय मानकों पर खरा उतारने के लिए तैयार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: टैक्सी से लेकर ई-रिक्शा तक के चालकों को प्रतिमाह दो-दो हजार रुपए देगी उत्तराखंड सरकार

यह भी पढ़ें: नैनीताल SSP के ऑफिस में तैनात सिपाही ने की आत्महत्या की कोशिश, पत्नी ने बचाया

To Top