उत्तराखंड में एक लाख से ज़्यादा लोगों ने कोरोना को हराया, लिस्ट में देखें अपने जिले का हाल

देहरादून: मंगलवार को प्रदेश में कुल 3012 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। बता दें कि उत्तराखंड में कोरोना वायरस के आंकड़े अब 129205 हो गए हैं। जिसमें से 103633 मरीजों ने कोरोना वायरस को हराया है। 734 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इसके अलावा मंगलवार को 27 मरीजों की मौत भी हुई है और कुल मौत का आंकड़ा 1919 हो गया है।

लिहाजा रोज़ कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोत्तरी हो रही है। लगातार रिकॉर्ड टूट रहे हैं। मंगलवार को भी राज्य में एक दिन में सर्वाधिक मामलों का पुराना रिकॉर्ड टूट गया। आंकड़े बेहद डरा रहे हैं। यही वजह है कि सरकार ने कई कड़े फैसले भी ले लिए हैं। बहरहाल आपको बता दें कि राज्य में 21014 केस एक्टिव हैं। रिकवरी रेट 80.21 प्रतिशत हो गया है।

जिलेवार कितनों ने कोरोना को हराया

अल्मोड़ा में 3209, बागेश्वर में 1530, चमोली में 3441, चंपावत में 1798, देहरादून में 33303, हरिद्वार में 15722, नैनीताल में 13502, पौड़ी में 5292, पिथौरागढ़ में 3399, रुद्रप्रयाग में 2319, टिहरी में 4173, ऊधमसिंह नगर में 12226 और उत्तरकाशी में 3719 लोगों ने कोरोना को हराया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: आवश्यक सेवाओं को छोड़कर दोपहर 2 बजे बंद होंगी सभी दुकानें,आदेश जारी

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने कहा लॉकडाउन आखिरी विकल्प है, देश को इससे बचाना है

जिलेवार कितने एक्टिव केस

अल्मोड़ा में 363, बागेश्वर में 155, चमोली में 193, चंपावत में 276, देहरादून में 8051, हरिद्वार में 6091, नैनीताल में 2099, पौड़ी में 844, पिथौरागढ़ में 121, रुद्रप्रयाग में 263, टिहरी में 790, ऊधमसिंह नगर में 1588 और उत्तरकाशी में 180 एक्टिव केस हैं।

जिलेवार मौतों के आंकड़े

अल्मोड़ा में 28, बागेश्वर में 17, चमोली में 19, चंपावत में 11, देहरादून में 1098, हरिद्वार में 193, नैनीताल में 266, पौड़ी में 65, पिथौरागढ़ में 48, रुद्रप्रयाग में 10, टिहरी में 19, ऊधमसिंह नगर में 127 और उत्तरकाशी में 18 मौतें कोरोना वायरस की वजह से हुई हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में नया आदेश, रोजाना रात 10 घंटे का रहेगा लॉकडाउन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में खराब होते जा रहे हैं हालात, कोरोना वायरस के 3012 केस सामने आए

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में चरम पर पहुंचा कोरोना का डर, हो गई डबल म्यूटेंट वायरस की पुष्टि

यह भी पढ़ें: रामनगर मार्ग पर भीषण सड़क हादसा,शादी से कुछ दिन पहले बेटी व पिता की दर्दनाक मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *