Nainital-Haldwani News

डीएम गर्ब्याल का प्रयास , कुछ इस तरह दिखाई देगा हल्द्वानी का बाजार और मुख्य स्थान

Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: शहर को कुमाऊं का प्रवेश द्वार कहा जाता है। वहीं हल्द्वानी कुमाऊं की आर्थिक राजधानी भी है। अब शहर में पधारने वाले लोगों को कुमाऊंनी संस्कृति से रूबरू होने का मौका मिलेगा। इस दिशा में डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने प्रयास शुरू कर दिया है। नैनीताल में कुमाऊंनी शैली में हुए नगर के सौंदर्यीकरण कार्य के बाद हल्द्वानी में भी कुछ इसी तरह का कार्य होने जा रहा है। इस संबंध में डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने जानकारी दी है।

डीएम ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि समय के साथ साथ परिवर्तन भी जरूरी है इसलिए कुमाऊँ-मंडल के प्रवेशद्वार हल्द्वानी शहर के समस्त प्राचीन मार्केट्स को चरणबद्ध रूप से रूपान्तरित करने का प्रयास प्रारम्भ किया जा रहा है।

प्रथम चरण मे बेस हॉस्पिटल लाईन,पटेल चौक मार्केट एवं रामलीला ग्राऊंड के जीर्णोद्धार का कार्य प्रारम्भ किया जायेगा। डीएम के इस प्रयास से हल्द्वानी से पहाड़ों को जाने वाले सैलानियों को कुमाऊंनी कल्चर के बारे में पता चलेगा। इसके साथ ही युवा भी कुमाऊंनी कल्चर के करीब आ पाएंगे। उत्तराखंड की संस्कृति के प्रचार-प्रसार हेतु यह शानदार आइडिया है और इसे नैनीताल में भी लोगों से खूब सराहना मिल चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में सफाई कर्मचारी हड़ताल पर गए, नगर आयुक्त निकल गए कूड़ा उठाने
Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top