Ad
Uttarakhand News

उत्तराखंड के दिव्यांग शिक्षक प्रदीप नेगी के लिए राष्ट्रपति मुर्मू ने तोड़ा प्रोटोकॉल

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हरिद्वार: राज्य के छात्र-छात्राएं जितने मेधावी हैं। उतने ही अच्छे देवभूमि के शिक्षक हैं। राष्ट्रीय शिक्षक दिवस के मौके पर कई शिक्षकों को सम्मानित भी किया गया। इस दौरान एक बड़ा ही अनोखा दृश्य भी देखने को मिला। जब हरिद्वार के एक दिव्यांग शिक्षक प्रदीप नेगी को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने प्रोटोकॉल तोड़कर पुरस्कार दिया।

बता दें कि राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिए राजकीय इंटर कॉलेज भेल में तैनात अध्यापक प्रदीप नेगी निवासी एकेश्वर ब्लॉक के भंडारी गांव पौड़ी गढ़वाल को चुना गया था। इस अवसर पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने प्रोटोकॉल तोड़कर दिव्यांग शिक्षक को सम्मानित करने के लिए मंच से नीचे उतर कर मिसाल पेश की।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के हर जिले में बनेगी टनल पार्किंग,जिलाधिकारियों को मिले निर्देश

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने फेसबुक पर राष्ट्रपति का आभार व्यक्त किया है। बता दें कि देश भर से आए 45 शिक्षकों में से मात्र 6 शिक्षकों को अलग से बात करने के लिए चयनित किया गया। जिनमें प्रदीप नेगी का नाम भी शामिल रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदीप नेगी से बात की और उनके उत्कृष्ट कार्यो की तारीफ भी की। इस दौरान न सिर्फ पीएम मोदी बल्कि शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने स्कूल आकर कार्यों को देखने की बात कही।

Join-WhatsApp-Group
To Top