Uttarakhand News

चारधाम यात्रा के लिए बेताब हैं तीर्थयात्री, करीब डेढ़ लाख पंजीकरण हो चुके हैं पूरे

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: चारधाम यात्रा की तैयारी शुरू हो गई है। यात्रा दो माह बाद शुरू होगी लेकिन श्रद्धालुओं ने पंजीकरण करना शुरू कर दिया है। यात्रियों में एक बार फिर उत्साह देखने को मिल रहा है और 21 फरवरी से अब तक 1.40 से अधिक तीर्थ यात्रियों ने ऑनलाइन पंजीकरण करा दिया है। माना जा रहा है कि श्री बदरीनाथ-श्री केदारनाथ मंदिर समिति भी पूजा हेतु पंजीकरण विडो को खोल सकती है।

साल 2023 में चारधाम यात्रा की शुरुआत 22 अप्रैल से होने जा रही है। केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट खोलने को लेकर फैसला हुआ है लेकिन गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने को लेकर कोई अधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। मान्यताओं के मुताबिक अक्षय तृतीय तिथि पर गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलते हैं।

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के उप निदेशक वाईएस गंगावार ने बताया कि सोमवार शाम पांच बजे तक बदरीनाथ धाम के लिए 62953 और केदारनाथ धाम के लिए 77143 तीर्थ यात्रियों ने पंजीकरण कराया है। दोनों धाम में पूजा और अभिषेक के लिए भी ऑनलाइन पंजीकरण होगा। हालांकि इसे शुरू करने का फैसला श्री बदरीनाथ-श्री केदारनाथ मंदिर समिति द्वारा लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की चैंपियन बिटियां का दर्द, नौकरी कब मिलेगी...मैनें तो अपना काम किया है

केदारनाथ धाम के कपाट 25 अप्रैल और बदरीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल को खुलने वाले हैं। पिछले साल रिकॉर्ड संख्या में श्रद्धालू पहुंचे थे और पंजीकरण की मौजूदा रफ्तार को देखते हुए कहा जा सकता है कि साल 2022 का रिकॉर्ड साल 2023 में टूट सकता है।

To Top