Ad
Uttarakhand News

उत्तराखंड में पहले से महंगी हो गई बिजली, आयोग ने जारी किया नया टैरिफ

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: उत्तराखंड राज्य में बिजली पहले से महंगी हो गई है। इस बात पर मुहर लगाते हुए गुरुवार को विद्युत नियामक आयोग ने बिजली का नया टैरिफ जारी कर दिया है। बता दें कि अब उपभोक्‍ताओं को पहले के मुकाबले बिल अधिक देना होगा। राज्‍य में बिजली की दरों में 2.68 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

गुरुवार को विद्युत नियामक आयोग ने बिजली का नया टैरिफ जारी कर दिया है।

आयोग द्वारा ये भी कहा गया है कि विभागीय उपभोक्ताओं के लिए घरेलू श्रेणी पर लागू टैरिफ के आधार पर समान बिलिंग होगी। साथ ही क्रास सब्सिडी को धीरे-धीरे कम करने के उद्देश्य से पीटीडब्ल्यू श्रेणी के लिए विद्युत के मूल्य 208 केडब्‍यूएच से बढ़ाकर 2.15 केडब्‍यूएच किया गया है। बीपीएल उपभोक्ताओं (लगभग चार लाख उपभोक्ता, कुल घरेलू उपभोक्ताओं का 20 प्रतिशत) एवं स्नोबाउंड उपभोक्ताओं के टैरिफ में मात्र चार पैसा प्रति केडब्ल्‍यूएच की बढ़ोतरी की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में फिर टूटा कांग्रेस का दिल, विधायक के बेटा-बेटी भाजपा में शामिल

मुख्य बिंदु

पब्लिक इलैक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन के लिए पहले से तय टैरिफ रुपए 0 5.50 केडब्‍ल्‍यूएच यथावत रखा गया है।

घरेलू श्रेणी के 100 यूनिट प्रति माह तक उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं हेतु स्थिर प्रभार में वृद्धि नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी के युवक की पीलीभीत में निर्मम हत्या, चार महीने पहले हुई थी शादी

टैरिफ में मात्र 10 पैसा प्रति यूनिट की वृद्धि की गई है।

रोजाना 18 घंटे की न्यूनतम औसत आपूर्ति प्राप्त नहीं होने पर एचटी औद्योगिक उपभोक्ताओं का डिमांड चार्जेज उस माह में अनुमोदित डिमांड चार्जेज का 80 प्रतिशत लगाया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम धामी ने रिपीट किया पीएम मोदी का वादा, सात हजार से ज्यादा मकान बनाए जाएंगे

आयोग द्वारा सभी श्रेणियों में क्रास-सब्सिडी को कम किया जाने का प्रयास किया गया है।

Join-WhatsApp-Group
To Top