Uttarkashi News

बड़ा संकट, यमुनोत्री हाईवे का 15 मीटर हिस्सा जमीन में धंसा, धाम जा रहे 4200 यात्री फंसे


Ad
Ad

उत्तरकाशी: चारधाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का क्रेज हमेशा की तरह देखा जा रहा है। यमुनोत्री धाम में भी अनेकों राज्यों से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। लेकिन एक गंभीर मामला सामने आया है। यमुनोत्री धाम मार्ग पर रानाचट्टी के पास हाईवे का 15 मीटर हिस्सा नीचे धंस गया है। जिस वजह से 4200 यात्री फंस गए हैं।

Ad
Ad

बता दें कि यमुनोत्री हाईवे का 15 मीटर हिस्सा धंसने के बाद केवल यहां से छोटे वाहन ही आवाजाही कर पा रहे हैं। बड़े वाहनों को रोका गया है। बताया जा रहा है कि बस के जरिए जानकीचट्टी से बड़कोट जाने वाले 1200 और बड़कोट से जानकीचट्टी जाने वाले करीब 3000 यात्री बीच में फस गए हैं।

जानकारी के अनुसार बुधवार की शाम को हल्की बारिश हुई। जिस वजह से करीब 6:00 बजे यमुनोत्री हाईवे के निचले हिस्से में भूस्खलन हो गया। तभी 15 मीटर लंबा और 3 मीटर चौड़ा हिस्सा जमीन में धंस गया। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने जानकारी दी और बताया कि फिलहाल हाईवे को सुचारू करने में टीम जुटी हुई है। पहाड़ी को काटकर सड़क को चौड़ा किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की सड़कों पर पहले से ज्यादा इलेक्ट्रिक बसें दौड़ेंगी

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि बड़े वाहनों के आवागमन के लिए गुरुवार शाम तक रास्ता तैयार होने की उम्मीद है। इसमें कोई दोराय नहीं कि हाइवे को सुचारु करने में अभी समय लगेगा। इसलिए यात्रियों को थोड़ा और मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। बड़कोट के थाना निरीक्षक गजेंद्र बहुगुणा ने जानकारी दी और बताया कि रानीचट्टी और जानकीचट्टी के बीच 24 बड़ी बसें और 17 मिनी बसें फंसी हुई है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top