Nainital-Haldwani News

कॉर्बेट पार्क में बनने जा रही है एक अलग दुनिया,पर्यटकों को आकर्षित करेंगी सैंकड़ों तितलियां

कॉर्बेट पार्क में बनने जा रही है एक अलग दुनिया,पर्यटकों को आकर्षित करेंगी सैंकड़ों प्रजातियों की तितलियां

रामनगर: कॉर्बेट पार्क पूरी दुनिया में प्रसिद्ध माना जाता है। बाघों, हाथियों और परिंदों के लिए मशहूर माना जाने वाला कॉर्बेट अब अपने अंदर तितलियों की एक दुनिया भी समेटेगा। पार्क प्रशासन तितलियों के संरक्षण के लिए एक अलग पार्क बनाने की तैयारी में जुट गया है। एक हेक्टेयर में बनने वाले इस पार्क को ढेला जोन में बनाया जाएगा। जिसमें पर्यटक कॉर्बेट पार्क में मौजूद 150 प्रजातियों की तितलियां देख सकेंगे।

पार्क में लगेंगे 34 प्रकार के पौधे

सीटीआर निदेशक राहुल ने जानकारी दी और बताया कि ढेला जोन में एक हेक्टेयर में बनने जा रहे तितलियों के पार्क में करीब 34 प्रकार के पौधों को रोपा जाएगा। जिसमें दिन का राजा, जैसमिन, गेरबेरा, कॉसमॉस, चम्पो, लैंटाना, जेत्रोफा, अवाद, करंज, आमबो, कामिनी, बारमसी, लालअंकोड, पिंक केरन, सतावरी, स्पाइडर प्लांट, गलगोटा, गुलाब, बंगाली बवाल, गेंदा, लेपोमी, बटक वाई आदि लगाए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी से देहरादून, हफ्ते में अब तीन दिन चलेगी ट्रेन, 11 जून से शुरू होगा संचालन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: हफ्ते में तीन दिन खुलेगी शराब की दुकानें, पांच घंटे के लिए मिलेगी छूट

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: ट्रक ने स्कूटी को मारी टक्कर,बिरला स्कूल के शिक्षक की मौत,साथी ने भी तोड़ा दम

सीटीआर निदेशक ने यह भी बताया कि यह पार्क तितलियों के संरक्षण के लिए ही बनाया जा रहा है। इससे तितलियों अपनी एक अलग दुनिया में साथ रह सकेंगी। साथ ही यह पार्क पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनेगा। लाजमी है कि देश विदेश से पर्यटक कॉर्बेट पार्क पहुंचते हैं। हर कोई यहां आ कर सुंदरता और वन्य जीवों के दर्शन से अभिभूत रह जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

दूसरी तरफ ढेला के रेंजर संदीप गिरी ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कॉर्बेट पार्क की सुंदरता, यहां के पहाड़ और चारों ओर जंगल, तितलियों के रहने के लिए काफी बेहतर जगह है। उन्होंने बताया कि विश्व में 1500 से ज्यादा तितली की प्रजातियां हैं। तितलियों के संरक्षण पार्क बनाने पर रेंजर ने कहा कि अलग अलग प्रजातियों की तितलियां एक जगह पर रहती हैं तो यह उस जगह की जैव विविधता का एक समृद्ध सूचक होता है। इन्हें देखने का सबसे अच्छा समय सूर्योदय या सूर्यास्त का होता है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: ट्रक ने स्कूटी को मारी टक्कर,बिरला स्कूल के शिक्षक की मौत,साथी ने भी तोड़ा दम

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 15 जून तक जारी रहेगा कोरोना Curfew, आदेश जारी, छूट भी मिली हैैै

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में गिरता कोरोना वायरस और बढ़ती कोरोना Curfew खुलने की उम्मीद

यह भी पढ़ें: अल्मोड़ा:दुल्हन के संक्रमित निकलने के बाद बारात रास्ते से लौटी,गांव में फिर पहुंची PPE किट

यह भी पढ़ें: सस्ता गल्ला विक्रेता की कोरोना से मौत,पूर्ति निरीक्षक रवि सनवाल ने उठाई बेटे की पढ़ाई की जिम्मेदारी

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top