Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी निवासी ध्यान दें, बिना पहचान पत्र के नहीं होगा आपके मोबाइल का कोई भी काम

हल्द्वानी निवासी ध्यान दें, बिना पहचान पत्र के नहीं होगा आपके मोबाइल का कोई भी काम

हल्द्वानी: पहचान पत्र की जरूरत आपकी पहचान के लिए होती है। पहचान पत्र की जरूरत अपने मत का इस्तेमाल करने के लिए होती है। अब नगर में पहचान पत्र की जरूरत मोबाइल रिपेयरिंग के लिए भी पड़ेगी। सीओ शांतनु पराशर के निर्देशों के बाद पहचान पत्र के बिना मोबाइल रिपेयर कराना मुश्किल होगा।

दरअसल बीते दिन पुलिस बहुउद्देशीय भवन में सीओ शांतनु पराशर ने बैठक कर समस्त मोबाइल की दुकान, संबंधित सामान बेचने और सर्विस सेंटर चलाने वालों को इस संबंध में दिशा-निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में PCS के 224 पदों पर निकली भर्ती, 30 अगस्त है लास्ट डेट

यह भी पढ़ें: रुद्रपुर की महिलाओं को मंडुए के बिस्कुट ने दी पहचान,PM मोदी फोन पर जानेंगे लाखों के टर्नओवर का राज

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं रेजिमेंट में तैनात हल्द्वानी निवासी जवान की मौत,9 दिन पहले पूरी हुई थी छुट्टी

सीओ के निर्देशानुसार अब मोबाइल रिपेयरिंग कराने के लिए भी पहचान पत्र दिखाने की जरूरत होगी। इतना ही नहीं बल्कि पुराना मोबाइल बेचने वाले से बिल और पहचान पत्र भी दुकानदार को अनिवार्य रूप से लेना होगा।

सीओ ने सभी दुकानदारों से अपनी दुकान में एक रजिस्टर तैयार करने की बात कही। जिसमें मोबाइल बेचने, खरीदने और रिपेयरिंग करने वालों का पूरा ब्यौरा और साथ ही मोबाइल का आईएमईआई नंबर अंकित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  IPL के लिए उत्तराखंड पुलिस ने कसी कमर, नौ लाख रुपए के साथ एक सटोरिए को दबोचा

यह भी पढ़ें: वायरल हुआ “प्यारी पहाड़न रेस्त्रां”…संचालिका प्रीति को आया PMO से कॉल

यह भी पढ़ें: कमाल का ऑफर,नीरज या वंदना है आपका नाम तो फ्री में कर सकेंगे चंडी देवी मंदिर के लिए रोपवे का सफर

सीओ शांतनु पराशर के मुताबिक मोबाइल की चोरी या छीना-झपट्टी के बाद अपराधी मोबाइल को इन्हीं दुकानों पर कम रेट में बेच देते हैं। दुकानदार भी उनसे बगैर आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बिल के मोबाइल खरीद लेते हैं।

सीओ ने बताया कि भविष्य में मोबाइल बेचने वालों से उसका बिल और पहचान पत्र लेना जरूरी रहेगा। जिस किसी ने इस नियम का पालन नहीं किया उसके खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने संदिग्ध दिखाई देने पर उसकी सूचना तुरंत पुलिस को देने की अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल एसएसपी ने शिकायत मिलने के कुछ घंटे बाद ही महिला इंस्पेक्टर को किया लाइनहाजिर

यह भी पढ़ें: टैक्सी से लेकर ई-रिक्शा तक के चालकों को प्रतिमाह दो-दो हजार रुपए देगी उत्तराखंड सरकार

यह भी पढ़ें: नैनीताल SSP के ऑफिस में तैनात सिपाही ने की आत्महत्या की कोशिश, पत्नी ने बचाया

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top