HomeSports Newsभारतीय टीम को एक सितारा देने को तैयार कर्नाटक, युवा देवदत्त पर...

भारतीय टीम को एक सितारा देने को तैयार कर्नाटक, युवा देवदत्त पर सभी को भरोसा

नई दिल्ली: पंकज पांडे: आईपीएल-14 सीजन में एक बार फिर आरसीबी के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल पर पूरे देश की नजर है। साल 2019 में डेब्यू करने वाले इस युवा ने सभी को प्रभावित किया है। सबसे ज्यादा प्रसन्न करता है उनका रवैया, जो आज के युवाओं में काफी कम देखने को मिलता है। पिछले सीजन देवदत्त रन बनाने के मामले में टॉप पांच पर काबिज थे। उन्होंने 5 फिफ्टी जड़ी थी और शतक की कसर उन्होंने 14वें सीजन में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पूरी कर दी। शतक पूरा करने के बाद जो खुशी उनके चहरे पर मैंने देखी थी उसे बयां कर पाना मुश्किल हैं। उन्होंने अपनी परिपक्वता से ये साबित किया कि वह सबसे अलग क्यों हैं। उनके अंदर मुझे बतौर क्रिकेट प्रशंसक इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज एलेस्टर कुक की छवि नजर हैं, जिन्होंने टेस्ट में 13 हजार रन बनाए हैं और वो भी बिना शोर शराबे के… देवदत्त कर्नाटका से घरेलू क्रिकेट खेलते हैं। वह टीम जिसने भारतीय टीम को कई सितारे दिए हैं और क्रिकेट फैंस को उम्मीद है कि उस लिस्ट में देवदत्त भी शामिल हो जाए।

बाएं हाथ के बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कत का यह आईपीएल का दूसरा सीजन है। अपने पहले ही सीजन में उन्होंने यूएई में 5 अर्धशतक लगाते हुए 473 रन बनाए थे। देवदत्त पडिक्कल ने हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में कमाल किया था और सात मैच में 737 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने चार शतक और तीन अर्धशतक लगाए।उन्होंने 15 फर्स्ट क्लास मैच में 35 की औसत से 907, 20 लिस्ट ए मैच में 87 की औसत से 1387 और 36 टी20 मैच में 45 की औसत से 1408 रन बनाए हैं।

कर्नाटका क्रिकेट टीम भारतीय घरेलू सर्किट में एक बड़ा नाम है। इस टीम की पहचान उसके खेल से होती है। पिछले लंबे वक्त से इस टीम ने अपना लोहा घरेलू क्रिकेट में मनवाया है। पिछले 10 सालों में इस टीम ने दो रणजी ट्रॉफी, दो इरानी ट्रॉफी, चार विजय हजारे ट्रॉफी और दो सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है। खासबात ये है कि कर्नाटका ने भारत को भी कई बड़े नाम दिए हैं, जिन्होंने अपने खेल से पूरे विश्वजगत में पहचान स्थापित की है। इस लेख में बतौर राइटर मैं उन महान खिलाड़ियों का जिक्र करूंगा जिन्हें मैंने खेलते देखा है। इस लिस्ट में राहुल द्रविड, अनिल कुंबले , जवागल श्रीनाथ और वेंकटेश प्रसाद शामिल हैं। ये भारतीय टीम के केवल खेले नहीं बल्कि अपने चरित्र से उन्होंने युवाओं को एक उदाहरण दिया। आज पूरा देश इन सभी खिलाड़ियों के रिकॉर्ड्स को क्रिकेट इतिहास की खिताब पर गर्व से पढ़ता है।

वहीं भारतीय टीम के लिए कर्नाटका से खेले मनीष पांडे, स्टुअर्ट बिन्नी, करूण नायर, केएल राहुल, रॉबिन उथप्पा, करूण नायर, विनय कुमार, अभिमन्यु मिथुन और श्रीनाथ अरविंद ने भारतीय टीम में जगह बनाई। इस लिस्ट मेंं शामिल खिलाड़ियों की कई पारियां और प्रदर्शन खेल प्रेमियों को याद है। मनीष पांडे ने आईपीएल इतिहास में बतौर भारतीय पहला शतक जड़ा था। स्टुअर्ट बिन्नी वनडे में बतौर गेंदबाज सर्वश्रेठ प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज हैं। करूण नायर ने भारत के लिए टेस्ट में दूसरा तेहरा शतक जमाया है। वहीं रॉबिन उथप्पा का साल 2007 में टी-20 विश्वकप उठाने वाले टीम में जो योगदान रहा था, उसे आज भी फैंस याद करते हैं। केएल राहुल भारतीय सीमित ओवर टीम का अभिन्न हिस्सा हैं।

कर्नाटका क्रिकेट की परछाई से अपने क्रिकेट की शुरुआत करने वाले 20 वर्षीय देवदत्त पडिक्कल अपने चरित्र से देश को भरोसा दे रहे हैं। क्रिकेट एक्सपर्ट का भी मानना है कि यह खिलाड़ी अगर इसी तरह से अपने गेम को आगे ले जाता रहेगा तो जल्द भारतीय टीम में ना सिर्फ शामिल होगा बल्कि लंबी रेस का घोड़ा भी साबित होगा।

यह भी पढ़ें: सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत,पानी मांगते हुए Viral हुई थी वीडियो

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: एक दिन में 4 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना वायरस को हराया

यह भी पढ़ें: दिल्ली व उत्तराखंड पुलिस को मिली सफलता, नकली रेमडेसिविर बनाने वाले गिरोह का भंडा फोड़ा

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी आ रही रोडवेज बस किच्छा में यूनिपोल से टकराई,बस चालक वाहन छोड़कर भागा

यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने चार जिलों को दिए 6 करोड़ रुपए,दो विभागों को भी बांटा बजट

यह भी पढ़ें: नैनीताल जिले में बढ़ाया गया Curfew,अगले आदेश तक रहेगा लागू, नए इलाके भी शामिल

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की बड़ी खबर, मैदानी इलाकों के बाद पहाड़ी क्षेत्र में भी लग गया कर्फ्यू

यह भी पढ़ें: हार्टअटैक से एंकर रोहित सरदाना की मौत, रेडियो स्टेशन से की थी करियर की शुरुआत

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here