National News

सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार, कोरोना से मौत पर चार लाख रुपए मुआवजा देना संभव नहीं


सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार, कोरोना से मौत पर चार लाख रुपए मुआवजा देना संभव नहीं

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कोरोना संक्रमण के चलते मरने वाले लोगों के परिजनों को मुआवजा देने के सिलसिले में बड़ी बात कही है। सरकार का कहना है कि कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 4 लाख रूपये का मुआवजा नहीं दिया सकता है। ये संभव ही नहीं है।

कोरोना के कारण मरने वालों के परिवारजनों को आर्थिक संकट से बाहर लाने हेतु मुआवजा देने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा था। जिस पर केंद्र सरकार ने हलफनामा देकर साफ किया कि आपदा कानून के तहत अनिवार्य मुआवजा केवल प्राकृतिक आपदाओं जैसे भूकंप, बाढ़ आदि पर ही लागू होता है।

सरकार का मानना है कि अगर एक बीमारी से होने वाली मौत पर मुआवजा दिया जाता है और दूसरी पर नहीं तो यह गलत होगा। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के परिजनों के लिए 4 लाख रुपये मुआवजे की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में नई SOP जारी, gym बंद रहेंगे, बाजार 9 घंटे खुलेगा

यह भी पढ़ें: नैनीताल: लंबे समय से एक जगह पर टिके पुलिसकर्मियों की बनाई जाएगी लिस्ट,फिर होगा ट्रांसफर

केंद्र सरकार के मुताबिक मुआवजे को कोरोना महामारी पर लागू करना किसी भी तरह से ठीक नहीं होगा। हलफनामे में सरकार ने कहा कि पहले से ही केंद्र सरकार और राज्य गंभीर वित्तीय दबाव में हैं। कोरोना महामारी के कारण अबतक 3,85,000 से अधिक मौतें हुई हैं जिनके और भी बढ़ने की संभावना है। इसलिए ये उचित नहीं होगा।

इसके साथ ही कोरोना पीड़ितों के लिए मृत्यु प्रमाणपत्र पर सरकार ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण से हुई मौतों को मृत्यु प्रमाणपत्रों में कोविड मौतों के रूप में प्रमाणित किया जाएगा। कोविड मौतों को प्रमाणित करने में विफल रहने पर संबंधित डॉक्टरों पर दंडात्मक कार्रवाई भी की जाएगी।

यह भी पढ़ें: इंग्लैंड काउंटी में छाप छोड़ रहे हल्द्वानी के मयंक मिश्रा, चटका चुके हैं 22 विकेट

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में इन जगहों पर बिछाई जाएगी सीवरेज लाइन, करीब 14 करोड़ रुपए से होंगे ये काम

यह भी पढ़ें: देहरादून की स्नेह राणा ने तोड़ा इंग्लैंड का सपना,सहवाग बोले तुमने महान पारी खेली है

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में आफत की बारिश के कारण टूटा 800 गांवों से संपर्क,22 जून तक अलर्ट जारी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top